चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

किटी पार्टी में 4 आंटियों ने मेरे साथ चुदाई की

loading...

Sex Stories मेरा नाम अयान है। कानपुर का रहने वाला हूँ। मेरी फैमिली भी यही रहती है। मुझे सेक्स और चुदाई करना बहुत पसंद है। मैं बहुत हैंडसम लड़का हूँ। उम्र 25 साल है। इतनी उम्र में 25 से अधिक लड़कियों को मैं चोद चुका हूँ। आपको बता दूँ की मेरा लंड 8” लम्बा और 2.5” मोटा है। मेरा सेक्स करने का स्टेमिना बहुत जादा है। 1 -1 घंटे मैं लड़कियों का काम लगाता हूँ पर आउट नही होता। चुदाई करने की कुदरती शक्ति है मेरे पास। इसी वजह से लड़कियों और आंटी मेरे पास खिची चली आती है। जिस किसी को मैं एक बार चोद देता हूँ वो बार बार मुझसे लंड मांगती है। मैं हर लड़की को पूरी तरह से संतुस्ट कर देता हूँ।
दोस्तों मैंने जिगोलो (मेल काल बॉय) का काम शुरू कर दिया था। मैं पैसे लेकर आंटी लोगो की प्यास बुझाता था। मैं फेसबुक और व्हाट्सअप से अपना बिजनेस चलाता था। धीरे धीरे मैं काफी मशहूर हो गया। मैं काल बॉय का काम कानपुर और लखनऊ में करता था पर पैसा अगर अच्छा मिलता था तो मैं दिल्ली तक चला जाता था। मेरी एक रात की कीमत कम से कम 5 हजार होती थी। आमतौर पर मैं 10 हजार रुपया एक रात का लेता था और अनलिमिटेड चुदाई का मजा आंटी लोगो को देता था। यही मेरा पेशा था। धीरे धीरे मैं काफी मशहूर हो गया था। कानपुर और लखनऊ में मुझे काफी बिजनेस मिल जाता था। ऐसी बहुत सी आंटी लोग है जिनके पति विदेश में रहते है या कोई बड़ी कम्पनी चलाते है। उनके पास पैसा तो बहुत है पर अपनी बीवियों को चोदने का समय नही है। ऐसी आंटी लोगो को मेरे तरह के मेल काल बॉय (जिगोलो) की बड़ी जरूरत होती है। वो मुझे फोन करके अपने घरो में बुला लेती थी और कसके चुदवाती थी। इसी तरह का काम मैं अब करने लगा था। एक दिन मुझे एक आंटी का फोन आया।

“हेलो !! मे आई स्पीक तो मिस्टर अयान??” उसने पूछा
आवाज बड़ी प्यारी थी
“यस! दिस इस अयान स्पीकिंग” मैंने कहा
“मेरा नाम बिंदु है। मैं काकादेव से बोल रही हूँ। क्या आप 2 -2 आंटी लोगो को एक साथ अपनी सर्विस देते है क्या???’
“जी हाँ” मैंने कहा
“कितना फ़ीस लेंगे आप???” इंदु आंटी बोली
“20 हजार” मैंने कहा
उसने मुझे पता बता दिया। मुझे शनिवार की रात को इंदु आंटी के घर जाकर उनको और उनकी सहेली को चोदना था। मैं तैयार हो गया। रात के 8 बजे मैंने ऑटो कर लिया और बताये हुए पते पर चला गया। इंदु आंटी का बंगला बहुत शानदार था। मैं अंदर गया। सब तरफ तरह तरह की महंगी चीजे थे। सोफे, कुर्सियां, बल्ब, लैम्प्स सब बहुत नये किस्म के थे।
“ये है मेरी दोस्त सोफिया” इंदु आंटी ने मुझे मिलवाया। मैं उनसे हाथ मिलाया। फिर मेरे लिए ड्रिंक बनाई। मेरे साथ ही इंदु और गुप्ता आंटी ने व्हिस्की पी। फिर हम बेडरूम में चले गये। इंदु और सोफिया नाईटी पहन रखी थी। हम तीनो बिस्तर पर चले गये। इससे पहले मैं कुछ समझ पाता मैं बेहोश हो गया। जब मेरी आँख खुली तो मैं पूरी तरह से नंगा था। इंदु आंटी ने मेरी व्हिस्की में नशे वाली गोली मिला दी थी। वहां पर सिर्फ इंदु और सोफिया ही नही थी बल्कि 2 और औरते थी- शीना और सबा। सब की सब पूरी तरह से नंगी थी। मैं हैरान था। चारो मेरे इर्द गिर्द बैठी हुई थी और बारी बारी से मेरा लंड चूस रही थी। मैं परेशान था।
“बिंदु आंटी! ये सब क्या है????” मैंने परेशान होकर पूछा
“चुप चाप लेते रहो वरना मैं पुलिस को फोन कर दूंगी। आज 20 हजार में तुम 4 आंटी लोगो को चोदोगे। जादा चूं चपड़ की तो पुलिस को फोन कर दूंगी और चोरी के इल्जाम में तुमको जेल भिजवा दूंगी” बिंदु आंटी ऊँची आवाज में बोली

अब मुझे किसी भी तरह उन चारो की हवस को शांत करना ही था। मैं मजबूर था। बिंदु, सोफिया, शीना और सबा बारी बारी से मेरा लंड चूस रही थी। मैं बेड पर लेटा हुआ था। सब बारी बारी से मेरा लंड चूस रही थी। चारो आंटी मेरे लंड की भूखी थी। सब मेरे लंड को बारी बारी से पकड़कर फेट रही थी। मैं “ओह्ह माँ—-ओह्ह माँ—उ उ उ उ उ——अअअअअ आआआआ—-” की आवाजे निकाल रहा था। सब मेरे लंड को बारी बारी से चूस रही थी। धीरे धीरे मुझे भी मजा आने लगा। बिंदु आंटी ने मेरे लंड को पकड़ लिया और जल्दी जल्दी फेटने लगी।
“देखो सोफिया!! कितना लम्बा और मोटा लंड है । क्या तुमने कभी ऐसा लंड देता है” बिंदु आंटी ने सोफिया आंटी ने पूछा मेरा लंड फेटते हुए।
“नही!! सच में बिंदु ये बहुत लम्बा है” सोफिया ने जवान दिया
फिर बिंदु ने मेरे लंड को मुंह में भर लिया और जल्दी जल्दी चूसने लगी। दोस्तों आज मैं 4- 4 नंगी आंटी से घिरा हुआ था। आप चाहे इसे मेरी किमस्त समझो या बदकिस्मती। बिंदु जल्दी जल्दी लंड चूस रही थी। उसे बड़ा मीठा स्वाद मिल रहा था। बिंदु आंटी ने 10 मिनट तक मेरा लंड चूस लिया। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
“बहन!! क्या सब मजा तुम खुद ही ले लोगी। अब मेरा नम्बर है” सोफिया आंटी बोली और उन्होंने मेरे लंड को बिंदु से छीन लिया और जल्दी जल्दी चूसने लगी। इस तरह मैं उन 4 आंटी लोगो के बीच में पिस रहा था। एक चूसती, फिर दूसरी चूसती, फिर तीसरी और चौथी चूसने लग जाती।
“बच्चे!! आज तुमको हम चारो आंटियों को मजे देना है” शीना बोली

loading...

फिर बिंदु आंटी ने मुझे सीधा लिटा दिया और मेरे 8” लंड को पकड़कर चूत में डाल लिया और मेरे लंड पर बैठ गयी। फिर धीरे धीरे उन्होंने उछल उछलकर चुदाना शुरू कर दिया।
“अयान!! मुझे जोर से चोदो बच्चे!! तुम आज मेरी चूत की प्यास हो पूरी तरह शांत कर दो” बिंदु आंटी बोली
मैं भी चुदाई में डूब गया। दोस्तों बिंदु आंटी बहुत हॉट और सेक्सी माल थी। उनके दूध 36” के थे। गोल गोल और बड़े सुंदर। बिंदु आंटी मेरे लौड़े पर कूद रही थी। मुझसे चुदा रही थी। हम दोनों को खूब मजा मिल रहा था। बाकी 3 सहेलियां हम दोनों को देख रही थी। बिंदु ने मेरे हाथ पकड़कर अपनी कसी कसी छातियो पर रख दिए।
“दबाओ अयान बेटे जोर जोर से दबाओ” बिंदु बोली
मुजको खूब मजा मिलने लगा। मैं बिंदु की मुलायम चुचियों को दबा रहा था। मसल रहा था। वो मेरे लंड पर सवारी कर रही थी। बिंदु आंटी की चुद्दी में मेरा लंड जल्दी जल्दी अंदर बाहर जा रहा था। खूब मजे लिए दोनों ने। 15 मिनट तक बिंदु आंटी मेरे लंड पर बैठकर सवारी करती रही। फिर हट गयी। अब सोफिया का चुदने का नम्बर था। वो मेरे लंड को 2 मिनट तक जल्दी जल्दी चूसती रही। फिर मेरे लंड को चूत में लेकर बैठ गयी।
ओह्ह गॉड!! सोफिया आंटी का बदन पतला, दुबला और छरहरा था। वो अपनी सहेलियों की तुलना में काफी पतली कमर वाली थी। उनकी कमर सिर्फ 28” की थी। वो मेरे लंड पर बैठ गयी और मेरे कन्धो पर उन्होंने अपने हाथ रख दिए। मेरी ओर झुक गयी और अपनी कमर चलाना उन्होंने शुरू कर दिया। चुदाई का काम शुरू हो गया। सोफिया ने जो जोर जोर से झटके दिए की मेरी माँ बहन एक हो गई। खूब चोदा उसने मुझे। मेरा लंड उसकी फिसलन भरी चूत की गली में गोटा लगाने लगा। मुझे खूब मजा दिया सोफिया आंटी ने। 15 मिनट बाद वो भी मेरे लंड की सवारी करके हट गयी।

loading...

अब शीना आंटी की बारी थी। बाकी चारो आंटी लोगो की तरह वो भी शादी शुदा थी। उनके पति फैक्टरी चलाते थे। पैसे तो बहुत थे उनके पति के पास पर अपनी बीबी को चोदने का समय नही था। दोस्तों इसलिए शीना आंटी आज मुझसे अपनी रसीली चूत चुदा रही थी। वो मेरे होठो पर किस करने लगी। 5 मिनट तक उन्होंने मेरे होठ चूसे।
“देखो बेटा!! अब मैं तुम्हारे लौड़े की सवारी करूंगी। प्लीस झड़ना नही” शीना आंटी बोली
“ठीक है आंटी” मैंने कहा
उसके बाद शीना किसी रंडी की तरह मेरे लंड को चूत पर लेकर मेरे पेट पर बैठ गयी और जल्दी जल्दी चुदाई करने लगी। मैं सिर्फ “ओहह्ह्ह—ओह्ह्ह्ह—अह्हह्हह—अई–अई- -अई— उ उ उ उ उ—” की आवाजे निकाल रहा था। मैं आमतौर पर एक लड़की को एक बार में चोदता था पर यहाँ तो 4 -4 औरते थी। मेरा लंड का बुरा हाल था। शीना अपनी कमर मटका मटकाकर चुदा रही थी। वो अपने कूल्हे बार बार हिला रही थी और गोल गोल घुमा रही थी। मेरे 8” लंड का सारा रस निकाल रही थी। मुझे बड़ी ताकत खर्च करनी पड रही थी शीना को चोदने में। 20 मिनट तक उसने मेरा लंड खाया और मेरे पेट पर बैठकर चुदवा लिया। मैं तो हांफ गया। फिर शीना उतर गयी। अब सबा आंटी का नम्बर था। वो मेरे सीने को किस करने लगी।
“अयान बेटा!! अगर तुम आज मुझे चोद चोदकर पूरी तरह से संतुस्ट कर दो तो मैं तुम्हारे नम्बर बढ़वा दूंगी। मेरे पति कानपुर यूनीवेर्सिटी में प्रोफेसर है” सबा आंटी बोली
उनके पति हमेशा अपनी किताबों में डूबे रहते थे। दिन रात शोध करते रहते है। बीबी की चूत प्यासी है, ये बात प्रोफेसर साहब को समझ ही नही आता था। सबा आंटी भी मेरे उपर आकर लेट गयी और मेरे होठ चूसने लगी। मैं पूरी तरह से नंगा था। मेरे सीने पर सबा आंटी चुम्मा पर चुम्मा दे रही थी।

“बेटा अयान!! प्रोफेसर साहब कभी मेरी चूत नही चोदते है। बेटा, आज मेरी प्यास बुझा दो” सबा आंटी बोली फिर मेरे पेट को अपने हाथो से सहलाने लगी। वो मेरे पेट पर किस कर रही थी। धीरे धीरे वो नीचे चली गयी। मेरे लंड को पकड़कर फेटने लगी। वो काफी देर तक मेरे खीरे को फेटती रही फिर मुंह में लेकर चूसने लगी। काफी देर चूसा। उसके बाद वो मेरे लंड को चूत में डालकर बैठ गयी। वो थोड़ी मोटे जिस्म वाली आंटी थी। कमर काफी भारी थी। सबा आंटी के मम्मे 38” साइज के हल्का हल्का लटके हुए थे फिर भी वो चोदने लायक मस्त सामान थी। मैंने उसके दूध को पकड़ लिया और कस कसके दबाने लगा।
सबा आंटी “आआआअह्हह्हह—–ईईईईईईई—-ओह्ह्ह्—-अई- -अई–अई—–अई–मम्मी—-” की गर्म गर्म सीत्कारे भर रही थी। मैं उनकी जवानी का मजा लुट रहा था। खूब मजा मिल रहा था मुझे दोस्तों। फिर सबा आंटी ने 20 मिनट मेरे लंड की सवारी की। मैं झड़ गया। DMCA.com Protection Status

loading...