चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

थ्रीसम सेक्स – गर्लफ्रेंड के साथ डबल पेनीट्रेशन वाली चुदाई

loading...

गर्लफ्रेंड के साथ डबल पेनीट्रेशन वाली चुदाई sex stories

हेलो दोस्तों मैं रुस्तम आप सभी का indiansexkahani.com में स्वागत करता हूँ। दोस्तों मेरी गर्लफ्रेंड का नाम लीना था। वो बहुत सुंदर सेक्सी और हॉट माल थी। कद 5 फुट था पर क्या गजब की चीज थी। लीना मेरी कालोनी में ही रहती थी। उसका जिस्म बिलकुल भरा हुआ था। वो इकदम जवान माल थी। उनके मम्मे 36” से भी बड़े बड़े थे और कितने मस्त गोल गोल रबर की गेंद की तरह थे। मैं लीना की चूत कई बार ले चुका था। हर बार उसे पेलने में मजा आ जाता था। उधर लीना को सेक्स करना बहुत पसंद था। अपनी रसीली चूत में मोटा लंड खाना उसे बहुत पसंद था। मैं उसके रसीले दूध चूस चूसकर मजे से पिता था। फिर उसकी चूत को चाटता था तब जाकर लीना की चूत बजाता था। मैं कई बार अपनी गर्लफ्रेंड की गांड भी मार चुका था। उफफ्फ्फ्फ़ !! कितनी कसी गांड थी उसकी। लीना को मेरा लंड चूसना विशेष रूप से पसंद था। वो कई कई घंटे मेरा लंड मुंह में डालकर चूसती रहती थी। लीना के पुट्ठे तो बिलकुल खरबूजे की तरह थे। जब जब अपनी गांड हिला हिलाकर चलती थी उसके पुट्ठो तो लड़कों को पागल बना देते थे। सब लीना के पुट्ठो को हाल से सहलाना चाहते थे। सब लीना की चूत बजाना चाहते है। उसक फिगर 36, 30, 32 का था।
दोस्तों कितने दिनों ने मेरे दिल में ये ख्वाब था की लीना को डबल पेनीट्रेशन का मजा दिया जाए। कितना अच्छा हो की अगर उसकी चूत और गांड दोनों में एक एक लंड घुसा हो तो उसे कितना मजा मिल जाए। फिर मैंने इस पर काम शुरू कर दिया। मैंने अपनी गर्लफ्रेंड लीना को डबल पेनीट्रेशन वाले कई वीडियोस अपने मोबाइल पर दिखाये। उसे राजी करने की कोशिश करने लगी।
“ना बाबा ना मैंने 2 – 2 लंड एक साथ नही लुंगी। मुझे बहुत दर्द होगा” लीना बोली
“बेबी! तुम एक बार लेकर तो देखो। बहुत मजा आएगा” मैंने उसे समझाया

किसी तरह वो रेडी हुई। मैं अपने दोस्त नील ने इस बारे में बात कर ली। एक दिन जब मेरे घर पर कोई नही था रात में मैं लीना को अपने घर ले आया। फिर मैंने तीनो के लिए बियर फ्रिज से निकाली। लीना की बियर में मैंने थोड़ी व्हिस्की मिला था जिससे उसे दो दो लंड खाने में दर्द ना हो। धीरे धीरे हम तीनो से अपनी अपनी ड्रिंक खत्म कर दी। लीना मेरा दोस्त नील और मेरे बीच में बैठी हुई थी। दोस्तों वो बहुत सेक्सी और हॉट माल लग रही थी। धीरे धीरे हम दोनों उसे किस करने लगे। लीना ने नारंगी रंग का एक बड़ा सुंदर टॉप पहना हुआ था। उसमे कई झालर लगी हुई थी। लीना के दूध हल्के हल्के टॉप से दिख रहे थे। धीरे धीरे हम दोनों लीना की रसीली चूचियों को सहलाने लगा। वो मस्त होने लगी। कसे टॉप में लीना के दूध कसे कसे गोल गोल किसी गेंद की तरह दिख रहे थे। आज लीना ने लाल रंग की लेगी पहन रखी थी। मैं उसकी टांगो और जांघो को सहलाने लगा।
इसी बीच मेरा जिगरी दोस्त नील लेगी के उपर से लीना की चूत को सहलाने लगा। वो “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” करने लगी। दोस्तों धीरे धीरे हम दोनों दोस्तों ने लीना को नंगा कर दिया। उसका टॉप और लेगी निकाल दी। फिर उसकी ब्रा और पेंटी भी उतार दी। फिर हम दोनों उसकी एक एक चूची मुंह में लेकर चूसने लगे। मेरी गर्लफ्रेंड बड़ी झक्कास माल थी। हम दोनों के लंड धीरे धीरे खड़े हो रहे थे। हम दोनों उसकी एक एक चूची पी रहे थे। कुछ देर बाद लीना पूरी तरह से चुदासी हो गयी। उसकी चूत गीली हो गयी और रस टपकने लगा। मैं समझ गया की वो डबल पेनीट्रेशन यानी डबल लंड खाने को तैयार है। फिर मैने उसे सोफे पर ही लिटा दिया। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
“भाई नील!! चल इस रंडी की चूत अच्छी तरह चाटकर इसे गर्म कर दे” मैंने कहा
“भाई तुम्हारा हुक्म सर आँखों पर” नील हंसकर बोला
वो मेरी गर्लफ्रेंड लीना के पैर और जाँघों को हाथ से सहलाने लगा। फिर होठो से किस करने लगा। कुछ देर तक नील लीना की गोरी चिकनी जांघो को सहलाता रहा। फिर उसके पैर खोलकर उसकी चूत को हाथ लगाकर सहलाने लगा। नील धीरे धीरे मेरी गर्लफ्रेंड की चूत चाटने लगा। लीना सोफे पर लेती हुई थी। मैं उसके सिर की तरह बैठ गया और उसके मुंह में लंड दे दिया। लीना चूसने लगी और हाथो से मेरा लंड फेटने लगी। दोस्तों इस तरह हम तीनो भरपूर मजा लेने लगे। लीना बिलकुल खोया थी। बिलकुल असली माल थी। उसकी उम्र अभी 23 साल थी। वो इकदम जवान माल दी। नील तो मेरी खूबसूरत गर्लफ्रेंड को देखकर पागल हो रहा था। वो जल्दी जल्दी लीना की चुद्दी चाट रहा था। पी रहा था। लीना की चूत गुलाबी गुलाबी मलाई जैसी थी। कोई भी लड़का लीना की मलाई जैसी चूत देख ले तो पागल हो जाए और उसे कसके चोद डाले। लीना इतनी हॉट और सेक्सी आयटम थी। दोस्तों कुछ देर बाद लीना की चूत में ज्वालामुखी फूटने लगा और उसकी बुर बार बार अपना रस छोड़ने लगी। मेरा दोस्त नील उसका सब माल पी जाता था। इधर दूसरी ओर लीना मेरा लंड मुंह में लेकर चूस रही थी। कुछ देर बाद नील इस तरफ आ गया और मैं अपनी खूबसूरत प्रेमिका की चूत पीने लगा। अब वो डबल लंड खाने को रेडी थी। मैं लीना को उठा दिया। खुद नीचे बैठ गया। मेरी टाँगे जमीन को टच कर रही थी।

loading...
loading...

“आओ बेबी!! मेरे लंड पर बैठ जाओ” मैंने लीना से कहा
धीरे धीरे वो मेरे लंड पर बैठने लगी। मेरे 9” के लंड को पकड़कर लीना ने अपनी चुद्दी में डाल लिया और धीरे धीरे बैठने लगी। लीना के वजन के कारण मेरा मोटा लंड उसकी चूत के भीतर धीरे धीरे धंसने लगा। लीना “……अई…अई….अई……अई….इसस्स्स्स्स्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….” बोलकर चिल्ला रही थी। कुछ देर बाद वो मेरे लंड पर बैठ गयी। मेरा लंड जड़ तक उसकी गुलाबी चुद्दी के भीतर धंस गया था। एक काम तो हो चुका था।
“नील! ओय गांडू!! जा अपने लौड़े में तेल लगाकर आ” मैंने कहा
“ठीक है भाई” मेरा जिगरी दोस्त नील बोला
वो मेरे घर की रसोई में गया और अपने लंड पर उसने ढेर सारा नारियल का तेल लगा लिया। कुछ देर नील ने अपना लंड फेट दिया जिससे और अधिक कड़ा हो जाए।
“चल इस रंडी की गांड में लंड घुसा” मैंने कहा
नील धीरे धीरे मेरी गर्लफ्रेंड लीना की गांड में लंड घुसाने लगा। पर दोस्तों जा ही नही रहा था। फिर उसने थोडा तेल लीना की गांड पर मल दिया। धीरे धीरे मेहनत करने लगा तो नील का 8” का लंड लीना की गांड में घुसने लगा। फिर पूरा घुस गया। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
“…..ही ही ही……अ अ अ अ .अहह्ह्ह्हह उहह्ह्ह्हह….. उ उ उ…” रुस्तम लग रही है। बहुत दर्द हो रहा है।। अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” लीना सिसकने लगी।
“बस बेबी!! 2 मिनट के बाद तुम जन्नत के मजे लूटोगी” मैंने कहा और नील को इशारा किया
दोस्तों आज पहली बार मेरी खूबसूरत प्रेमिका डबल डबल लंड खाने जा रही थी। उसकी चूत में मेरा और गांड में नील का लंड घुसा हुआ था। धीरे धीरे हम दोनों लीना को चोदने लगे। उसे काफी दर्द हो रहा था। मैंने उसकी कोई बात नही सुनी। धीरे धीरे मैं उसको उपर की तरह उछाल रहा था। उसकी चूत में लंड आगे पीछे अंदर बाहर कर रहा था। उधर मेरा दोस्त नील भी लीना की गांड में लंड अंदर बाहर करने लगा। लीना शायद रो रही थी। धीरे धीरे हम दोनों रफ्तार बढाने लगे। आह मजा आ रहा था दोस्तों। नील का लंड बार बार मेरे लंड से अंदर ही टकरा जाता था। जैसे 2 -2 तलवारे आपस में तकरा रही थी। लीना काँप रही थी। आजतक उसने एक बार में दो दो लंड नही खाया था। आज वो कसके चुदा रही थी। फिर हम दोनों अपनी अपनी रफ्तार बढ़ाने लगे। अब मेरी और नील की जोड़ी बन गयी। हम दोनों एक साथ की अपने अपने लंड लीना के छेद में अंदर डालते और एक साथ ही निकालते। वो “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..” बोल और हम दोनों के लंड पर डांस कर रही थी।

मैं सोफे पर बैठा था। मेरी गोद में लीना थी। फिर उसके पीछे नील खड़ा होकर उसकी चूत बजा रहा था। दोस्तों मैं बार बार लीना की हरी भरी चूचियां चूस लेता था। ओह्ह कितनी खूबसूरत चूची थी उसकी। मैं चूस चूस कर जन्नत के मजे लुट रहा था। हम दोनों के लंड लीना के छेदों को तार तार कर रहे थे। कुछ देर बाद वो हमे बजा मिलने लगा। सट सट हम दोनों के लंड लीना के छेद को चोदने लगे। उसके तो पसीने छूट रहे थे। वो बस “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ..हमममम अहह्ह्ह्हह..अई…अई…अई…..” की कामुक सिसकियाँ निकाल रही थी। लीना की बियर में मैंने व्हिस्की मिला दी थी। इसलिए उसे आधा होश ही था। अगर उसे पूरा होश होता तो वो डबल लंड खाने से इंकार कर देती। पर दोस्तों व्हिस्की और बियर अपना कमाल दिखा रही थी। लीना 2 -2 मोटे लंड से चुदा रही थी। हम दोनों को बेहद मजा आ रहा था। 20 मिनट तक हम दोनों ने लीना को डबल लंड से चोदा। फिर अपने अपने छेद में माल छोड़ दिया।
कुछ देर बाद लीना फिर से रेडी हो गयी। इस बार नील ने उसे अपने लंड पर बिठा लिया और मैंने पीछे से उसकी गांड में लंड घुसा दिया। अब तो जैसी लीना को डबल पेनीट्रेशन की आदत सी हो गयी थी। वो “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ… सी सी सी सी….. ऊँ—ऊँ…ऊँ….” आवाजे निकाल रही थी और जमकर चुदा रही थी।
“पेलो !! और और पेलो! प्लीस रुको मत। आज मेरे दोनों छेदों को कसके चोद लो रुस्तम!” लीना ऐसा चिल्ला रही थी। हम दोनों अपने अपने लंड उसके छेद में दौड़ा रहे थे। दोस्तों कुछ देर बाद लीना की गांड और चूत दोनों के छेद अब काफी बड़े हो गये थे। मैं जल्दी जल्दी अपनी कमर घुमा घुमाकर उसकी गांड बजा रहा था। उधर मेरा दोस्त नील जल्दी जल्दी लीना की चुद्दी मार रहा था। लीना उछल उछलकर चुदा रही थी। इस बार भी हम दोनों ने उसे आधे घंटे एक साथ कूटा फिर अपने अपने छेद में माल गिरा दिया। अब लीना को डबल पेनीट्रेशन की आदत हो गयी है। अक्सर हम लोग साथ में चुदाई के मजे अब लेते है।

DMCA.com Protection Status

कहानी शेयर करें :
loading...