चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

सुहागरात पर दिल खोलकर पति से चुदी

loading...

New Sex Stories मेरा नाम नंदिनी है। बिजनौर की रहने वाली हूँ। मैं एक 26 साल की जवान लड़की हूँ। मैं देखने में खूबसूरत और जवान हूँ। मेरा जिस्म भरा हुआ हो। देखने में बड़ा सेक्सी लुक है मेरा। मेरी त्वचा बहुत चिकनी है। मेरे चेहरा लम्बा है और देखने में मैं किसी हेरोइन की तरह दिखती हूँ। मेरी जवानी देखकर लड़को के लंड खड़े हो जाते है। वो मुझे चोदना चाहता है। जींस टॉप में जब मैं अपनी कसी कसी 36” की चूचियों को हिला हिलाकर और अपनी 32” की गांड को मटका मटकाकर चलती हूँ तो चलते हुए मर्द रुककर मुझे देखने लग जाते है। कुछ तो आँखों ही आँखों में मुझे चोदना शुरू कर देते है। शादी से पहले ही 7 लड़कों ने मुझे कसके चोद डाला था। मेरी खूबसूरती है ही ऐसी की लड़के मेरी तरफ खिचे चले आते है। मुझे चुदना और सेक्स करना बहुत पसंद है। चूत में मोटा लंड लेने का शौक है मुझे। मेरी चूत बहुत गुलाबी, रसीली और खूबसूरत है। जो लड़का मुझे एक बार चोद लेता है वो बार बार मुझसे चूत देने की रिक्वेस्ट करता है। पर मैं सिर्फ सेक्सी और स्मार्ट लड़को से ही चुदाती हूँ। अभी 2 महीने पहले ही मेरी शादी हुई है। आपको आज मैं आपनी सुहागरात के बारे में विस्तार से बताउंगी।

ये सब 6 महीने पहले शुरू हुआ था। मेरे होने वाली पति का नाम तेजस था। वो मुझे शादी के लिए देखने आये थे। उनके साथ में उसके पापा, मम्मी, भाई, बहन सब लोग आये थे। सब बैठकर बात कर रहे थे। फिर मेरी माँ ने मुझे चाय देकर सबसे सामने भेजा। मैंने अच्छा सा सलवार कुर्ता पहना हुआ था। अपने सिर को मैंने चुन्नी से ढक रखा था। जब मेरी नजरे अपने पति से टकराई तो मेरा दिल धक धक करने लगा। वो मेरे होने वाले पिया जी थे। सबने चाय पी। मेरी माँ ने बताया की चाय मैंने ही बनाई है। तेजस के पापा, मम्मी और बाकी परिवार मुझे बड़ी ध्यान से देख रहे थे। वो सब बहुत खुश नजर आ रहे थे। कुछ देर बाद सब लोगो ने चाय पी ली। मैं तो शर्म के मारे पिछल रही थी। मैं बहुत शर्मीली किस्म की लड़की थी। दिल कर रहा था की सबसे सामने से भाग जाऊं पर शादी करनी थी।
“तो हमारी बेटी आपको कैसी लगी???” मेरी माँ ने सबसे पूछा
“भई!! लड़की हमे बहुत पसंद है। अब तो हमारे बेटे की शादी नंदिनी से ही होगी” तेजस की माँ बोली
उसके बाद शादी की तैयारी होने लगी और 2 महीने बाद मेरी शादी तेजस से हो गयी। जब मेरी विदाई हो रही थी मैं अपने पापा और मम्मी से लिपटकर खूब रोई। फिर कार में बैठकर मैं अपनी ससुराल आ गयी। रात हो गयी थी मेरा दिल धक धक कर रहा था। आज मेरी सुहागरात थी। आज मेरे पति मेरे साथ सेक्स और चुदाई करने वाले थे। मैं थोडा ऐबनार्मल महसूस कर रही थी। थोडा डरी हुई थी। मेरे पति तेजस ***** में थे। मेरी कई सहेलियाँ कह रही थी की ***** वाले आदमी तो टांग उठाकर कसके चुदाई करते है। उनका लंड बहुत मोटा है। ये सब बातो को सोचकर मैं काफी डरी हुई थी। रात 11 बजे मेरे पति तेजस कमरे में आ गये।
मैं नवविवाहिता बिस्तर पर साड़ी पहनकर घुंघट मारकर बैठी हुई थी। तेजस मेरे पास आकर बैठ गये और मेरे सिर से मेरी साड़ी का पल्लू सरका दिया। मैं छुई मुई के पेड़ सी लजा गयी। तेजस ने मेरे ठुड्डी के नीचे हाथ रख मेरे सिर को उपर उठा दिया।
“ओह्ह्ह नंदिनी!! तुम बहुत खूबसूरत हो। तुमसे शादी करने मेरी जिन्दगी संवर गई” तेजस ने कहा

मैं चुप थी। थोड़ी घबराई थी। कुछ देर तेजस मुझे अपनी लाइफ के बारे में बताते रहे।
“चलो कपड़े उतार दो। आज हमारी सुहागरात है” तेजस ने कहा और अपने कपड़े उतारने लगे। कुछ ही देर में वो पूरी तरह से नंगे हो गये। अब मुझे भी नंगी होना था। मैंने एक एक करके अपने गहने उतारना शुरू कर दिया। धीरे धीरे मैं पूरी तरह से नंगी हो गयी। तेजस ने भी मेरी ब्रा खोली और उतार दी। फिर उन्होंने ही मेरी पेंटी खींचकर उतार दी। दोस्तों मैं गोल मटोल भरे हुए जिस्म की लड़की थी। ट्यूबलाईट की रौशनी में मेरा जिस्म चांदी सा चमक रहा था। मेरे पति तेजस मेरे उपर लेट गये और मेरे होठ पीने लगे। धीरे धीरे मेरा डर दूर हो गया। तेजस मुझे बिलकुल अपनी तरह लगे। वो मेरे नंगे जिस्म को हाथो से सहला रहे थे। मुझे बार बार सब जगह किस कर रहे थे। मेरे गाल, गले, आँखों और कंधे पर तेजस ने कई बार चुम्मी ली। मुझे खूब प्यार किया। धीरे धीरे मैं पति से पूरी तरह से खुल गई। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
तेजस नीचे सरक गये। मेरे 36” की कसी कसी चूचियों के उपर अब वो आ गये और मेरे बूब्स का दर्शन करने लगे। तेजस ने अपने हाथ से मेरे दूध को दबाना शुरू कर दिया। मैं “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” की सेक्सी आवाजे निकाल रही थी। तेजस अब मेरी कसी कसी निपस्ल को मुंह में लेकर चूसने लगा। लगा की कोई छोटा बच्चा आज मेरे दूध पी रहा है। मुझे बड़ा मजा आ रहा था। शादी से पहले मेरे कई बॉयफ्रेंड मुझे चोद चुके थे। पर किसी ने मेरे दूध नही चूसे थे। पर आज मुझे पति का प्यार मिल रहा था। तेजस मेरे चूची को चूस रहे थे। धीरे धीरे मेरी चूत गीली हो रही थी। तेजस दबा दबाकर मेरे स्तन पी रहे थे। मैं मचल रही थी। मेरे जिस्म में आग सी लग रही थी। अब मैं पति से कसके चुदाना चाहती थी। तेजस मुझे बीच बीच में बात भी कर रहे थे।

loading...

“नंदिनी!! क्या शादी से पहले तुमको किसी ने चोदा था?? कोई बॉयफ्रेंड था क्या तुम्हारा???” अचानक तेजस ने सवाल कर दिया
मैं बहुत घबरा गयी थी। शादी से पहले मैं कई मर्दों से चुदा चुकी थी। मोटे मोटे कितने लंड मैंने अपनी चूत में खाये थे मुझे ही याद नही था। मैं डर गयी।
“जी!! वो वो मेरा …..एक एक बॉयफ्रेंड था” मैंने हकलाकर कहा
मैं डर रही थी की कहीं पति को मेरे बॉयफ्रेंड वाली बात पता चल गयी तो कहीं वो मुझे छोड़ ना दे।
“कोई बात नही इसमें कोई बुराई नही है। हर जवान लड़की का चुदाने का दिल करता है। ऐसे में अगर तुमने कोई बॉयफ्रेंड बना लिया तो इसमें कोई बुराई नही है। शादी से पहले मेरी भी कई गर्लफ्रेंड थी। मैंने भी उनके साथ खूब चुदाई के मजे लुटे है। नंदिनी!! इसमें कोई बुराई नही है” मेरे सीधे सच्चे स्वभाव वाले पति तेजस ने कहा
अब जाकर मुझे चैन मिला। तेजस मेरे पेट पर हाथ घुमा रहे थे। मेरी नाभि में ऊँगली कर रहे थे। इस समय वो मेरी लेफ्ट साइड वाली चूची को पी रहे थे। दोस्तों मेरे स्तन बहुत कसे कसे थे। गर्व से तने हुए थे। मेरे नये नवेले पति तेजस स्तनों को दबा दबाकर चूस रहे थे। उन्होंने मेरे साथ खूब मस्ती की।
मैं “……अई…अई….अई……अई….इसस्स्स्स्स्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….” की सेक्सी आवाजे निकाल रही थी। कई बार तेजस अपने दांत से मेरी निपल्स को काट लेते थे। मैं चिहुक जाती थी। उछल पड़ती थी। तेजस तो बस चूस ही रहे थे। कम से कम 40 मिनट तक उन्होंने मेरी दोनों चूची को चूस लिया। सब रस उन्होंने चूस लिया था। अब वो मेरे पेट को किस कर रहे थे। मेरा पेट और कमर काफी सेक्सी और छरहरा था। मेरी एक एक पसली दिख रही थी। मैं बेहद हॉट और सेक्सी लड़की लग रही थी।
“नंदिनी!! क्या तुमको लंड चूसना आता है। मेरा लंड चुसाने का बड़ा मन कर रहा है” तेजस बोले

loading...

“ठीक है! आप लेट जाइए। मैं आपका लंड चूस देती हूँ” मैंने कहा
“नही, मुझे आप मत बोला करो। तुम मेरी अर्धांगिनी हो, मेरी बीबी हो, मेरी हमसफर हो। तुम मुझे तेजस कहकर बुलाया करो” तेजस बोले और लेट गये
दोस्तों जब मैंने अपने नये नवेले पति का लंड देखा तो बस उनकी फैन हो गयी। तेजस की तरह उनका लंड भी खूब गोरा था। 7” का लम्बा था और सवा 2” का ताकतवर लंड मेरे सामने था। मैं पकड़ लिया और जल्दी जल्दी उपर नीचे हाथ चलाने लगी। ये कहानी आप इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।
“अ अ अ अ .अहह्ह्ह्हह उहह्ह्ह्हह….. उ उ उ…नंदिनी!! करो और करो!! अच्छा लग रहा है” तेजस बोले
मैं जल्दी जल्दी उनका लंड फेटने लगे। धीरे धीरे मेरे पति गर्म होने लगे। फिर मैं लेटकर तेजस का लंड मुंह में लेकर चूसने लगी। वो आँख बंदकर चूसा रहे थे। उनको भी खूब मजा मिल रहा था। मेरी पीठ को तेजस बार बार सहला रहे थे। मुझे मजा आ रहा था। धीरे धीरे मुझे उनका लंड चूसने की आदत हो गयी। मेरे रसीले होठ मस्ती करके लंड को चूस रहे थे। तेजस को मजा मिल रहा था। फिर मैं उनकी गोलियां चूस रही थी। मेरे हाथ एक सेकंड को भी नही रुक रहे थे। बस जल्दी जल्दी लंड को फेट रहे थे। मैंने 15 मिनट तक पति का लंड चूसा। दोस्तों अब तेजस का लंड 8” लम्बा दिख रहा था।
“नंदिनी लेट जाओ और पैर खोल लो” मेरे पति तेजस ने कहा

मैंने ऐसा ही किया। लेट गयी और अपने पैर खोल दिए। तेजस ने मेरी चूत पर अपना मुंह रख दिया और जल्दी जल्दी मेरी चूत चाटने लगे। मैं “अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” की सेक्सी आवाजे निकाल रही थी। मैंने अपनी चूत को अच्छी तरह से शेव कर लिया था क्यूंकि आज हमारी सुहागरात थी। मेरी चूत बड़ी चिकनी और खूबसूरत दिख रही थी। तेजस तो जल्दी जल्दी चाटे जा रहे थे। फिर उन्होंने अपनी हाथ को अपने मुंह में लगाया और गीला कर दिया। फिर लंड के टोपे पर लगा दिया और मेरी चूत में लंड सरका दिया। पहले धक्के में ही तेजस का लंड मेरी चूत में पूरा 7” अंदर उतर गया। फिर वो जल्दी जल्दी मुझे चोदने लगे।
उनका लंड इतना मोटा था की मुझे काफी मजा मिल रहा था। तेजस ने मेरी दोनों टांग उठाकर अपने कन्धो पर रख ली और जल्दी जल्दी मुझे पेलने लगे। मैं “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..” बोलकर सेक्सी आवाजे निकाल रही थी। मेरे पति तेजस का लंड इतना मोटा था की मुझे चूत के छेद में बड़ी कसावट मिल रही थी। तेजस जल्दी जल्दी मुझे चोद रहे थे। तेज तेज धक्के चूत में मार रहे थे। कुछ देर बाद तो मेरे 36” के दूध बार बार हिलने लगे। मुझे बड़ा सेक्सी फील हो रहा था। अब मेरी चूत अपना मीठा पानी छोड़ रही थी। तेजस का लंड मेरी गीली और बेहद चिकनी चूत की गली में जल्दी जल्दी अंदर बाहर सरक रहा था। मुझे नशीली रगड़ मिल रही थी। उन्होंने इस तरह 45 मिनट मेरी दोनों टांगो को उठाकर चोदा और हांफते हुए चूत में ही झड गये। दोस्तों इस तरह से मेरी सुहागरात पूरी हो गयी। DMCA.com Protection Status

कहानी शेयर करें :
loading...