चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

बड़े बूब्स वाली पड़ोसन के दोनों दूध के बीच लंड डाल कर चुदाई किया

loading...

मेरा नाम मनोज है, और मेरी उम्र २८ साल है. मेरी हाइट ५ फुट ७ इंच है, मैं यूपी का रहने वाला हूं. तो बात कुछ साल पहले की है जब मेरी ट्रांसफर मुंबई में हुई थी. मैं ने एक रूम किराए पर लिया था और मेरे पड़ोस में कपल रहता है दीपक और उसकी पत्नी. दीपक के साथ मेरी फॉर्मल बातचीत होती थी और उससे बात करते करते मैंने उसे बोला मुझे खाना बनाना नहीं आता है, तब उसने बोला मेरे घर से खाना ले लो. उसके बाद उसकी पत्नी मुझे टिफिन देने आती थी.

फिर मेरी और उसकी पत्नी की पहचान हुई, उसका नाम पल्लवी है, और उस की उम्र लगभग ३५ साल थी, और उसका फिगर ३६-३०-३४ था वह बहुत ही ज्यादा सेक्सी लगती थी. उसके बड़े बड़े गोल मटोल बूब्स और बड़ी गांड देख कर उसको चोदने का मन करता था. जब वह चलती तब उसकी गांड उछलती थी मैं तो पागल था उसकी गांड के पीछे. दिल करता कि मैं उसे एक बार चोद डालू, धीरे धीरे हम दोनों खूब बातें करने लगे मैं उसे खूब हंसी मजाक करने लगा. एक दिन मैंने उसे प्रपोज किया, पर वह बोली मजाक मत करो. मैंने बोला मैं सीरियस हूं, वह बोली मैं शादीशुदा हूं.

फिर मैंने उसे बहुत बार मनाने लगा बाद में वह बोली मुझे थोड़ा वक्त चाहिए, कुछ दिनों बाद उसने हां बोला, बाद में हम दोनों छुप कर एक दूसरे के साथ मिलने लगे और घूमने लगे. एक दिन वह मेरे घर टिफिन देने आई थी और उसने ब्लैक साड़ी पहनी हुई थी, और उसका स्लीवलेस ब्लाउज टाइट और डीप कट का था. उस के सफेद जिस्म पर वह ब्लैक साड़ी और ब्लाउज बहुत मस्त लग रही थी.

loading...

उसकी लो वेस्ट की साड़ी टाइट पहनी थी जिससे उसका नंगा पेट और गोल गांड दिख रहे थे, चेहरे पर मेकअप और होठो पर लाल लिपस्टिक लगाई थी, उसके बाल कंधे तक थे, जिससे उसने क्लिप से बांध रखा था, फिर से उसे देखकर मैं खुद पर काबू कर ना सका और मैंने उसे कहा कि वह मुझे एक किस दे, पर उसने ना कहा. फिर मैंने उसकी कमर को पकड़कर खींचा और उसका मुह पकड कर उसे किस करने लगा और उसने अपने लिप्स को बंद करके रखा था और मुझे पुश कर रही थी, पर मैंने उसे छोड़ा नहीं और लगातार जबरदस्ती किस करता रहा, और मैंने उसे किस करते समय उसके बूब दबाना चाहा.

loading...

वह मुझे टच नहीं करने दे रही थी, आखिरकार मैंने अपने एक हाथ से उसके बूब्स को पकड़ लिया और उसे दबाने लगा, पर वह बहुत जोर लगा रही थी पर अपने आप को छुड़ा नहीं पा रही थी. फिर मैंने उसे जबरदस्ती उसका हाथ पकड़ कर बेडरूम में लेकर गया और उसको बोला मुझे तुम्हारा दूध पीना है, वह गुस्से से लाल हो गई थी और वह बोली, मनोज प्लीज़ मुझे जाने दो, और मैं कुछ सुनने की कंडीशन में नहीं था. मैंने उसको बालों में हाथ डाल कर उस का क्लिप खोल दिया और उसके बाल पूरी तरह खोल दिए. मैंने उसका पल्लू हटाया, उसका क्लीवेज दिख रहा था. उसका ब्लाउज देखकर ऐसा लग रहा था कि उसके बूब्स बाहर आने को तड़प रहे थे.

मैंने उसका जबरदस्ती ब्लाउज का हुक खोलना शुरू किया पर उसका ब्लाउज टाइट था, पहला हुक मुश्किल से खुला वह मुझे रोकने की कोशिश कर रही थी, लेकिन मैंने उसका ब्लाउज उतार कर फेंक दिया. उसने ब्लैक कलर की ब्रा पहनी थी और वह कमाल लग रही थी. फिर मैंने ब्रा को आगे से पकड़कर ऊपर उठाया तो क्या नजारा था, उसके दोनों बूब्स स्प्रिंग की तरह उछल कर बाहर आ गए. मैंने उसका ब्रा का हुक खोला के उतार दिया उसने अपने बड़े हाथों से अपने बूब्स छुपाए बूब्स पर चूड़ी अरे हाथ को देख था तो वह और भी ज्यादा सेक्सी लग रही थी वह बोली प्लीज मनोज ऐसा मत करो मैं शादीशुदा हूं.

मैंने बोला जानेमन हम दोनों बाद में शादी कर लेंगे. आज मुझे तेरे बूब्स चूसने दे और उसके दोनों हाथ को बूब्स से हटाया उसके गोरे गोरे बड़े बूब्स और काली चूची को देख कर बोला यार तेरे बूब्स कितने बड़े हैं, इतने शानदार बूब्स क्यों छुपा कर रखे हैं? और उसके बूब्स पर कुत्ते की तरह झपट पड़ा. मैंने उसका मंगलसूत्र पीछे किया और उसके दोनों बूब्स जोरों से मसलने लगा, क्या सॉफ्ट बुब्स थे उसके? बड़े बूब में एक हाथ से पकड़ नहीं पा रहा था. अब मैंने उसका एक बूब साइड से पकड़ कर चूसने लगा और दूसरा बॉल दूसरे हाथ से दबाने लगा.

अब मैंने उसकी दोनों चूची एक साथ मुंह में डालकर चूसा, मैंने अपने मुंह में उसका एक बुब पूरे का पूरा अंदर लेने की कोशिश की पर वह बहुत बड़े थे, इसलिए वह पूरा नहीं ले पाया और बारी बारी से दोनों बूब्स को चूसने लगा और चूची को बाइट करने लगा. आज तो मैंने उसे चोदने का मन बनाया था, मैंने उसे बोला अपनी साड़ी उतारो और नंगी हो जाओ. वह बोली मनोज प्लीज मुझे जाने दो, हम शादी के बाद सेक्स करेंगे.

मैंने बोला जानेमन आज मुझे चोदने दे. मैंने उसकी सुनी नहीं और उसकी साड़ी उतार दी और जैसे ही पेटीकोट का नाडा खोला पेटीकोट गिर गया. और उसके गोरे जांघों को मेंने चाटना शुरु किया, फिर मैंने उस को बेड पर लेटाया और उसकी ब्लैक पैंटी को उतार कर नंगा किया. मैं तो उसका नंगा जिस्म देखकर पागल हो गया था, उसने अपनी टांगो को क्रॉस करके चूत को भी छुपाया पर मैंने उन टांगो को खोला, क्या नजारा था? उसका गोरा नंगा बदन मैं चूत को जोर जोर से सहलाने लगा, अब मैंने उसके चूत पर अपना सर रख कर चाटने लगा.

अब मैंने उसकी एक टांग को ऊपर कंधे पढ़ रखी और दोनों हाथों को पकड़ा और थोड़ा सा झुक कर मेरे मैंने अपने लंड को उसके चूत में सेट करके जोर से झटका दिया, और लंड चूत में घुस गया, वह बहुत ही जोर से चिल्ला रही थी और छटपटाने लगी पर मैं रुका नहीं. थोड़ी देर तक रजिस्ट करने के बाद वह शांत हो गई और चोदने दे रही थी, और फिर मैं जोर जोर से चोदने लगा, उसे फुल स्पीड में चोदते वक्त उसकी चूड़ी और पायल की छनछन की आवाज़ आ रही थी, और उसके बड़े बड़े दूध से भरे हुए स्तन उछलते हुए क्या लग रहे थे? मजा आ रहा था. उसकी आंखों से आंसू गिर रहे थे.

अब मैंने पोजीशन चेंज किया और उसके दोनों टांग को कंधे पर रखा और दोनों हाथों को पकड़कर फिर से लंड को चूत पर रख दिया और जोर से धक्का दिया तो पूरा लंड चूत में घुस गया फिर जोर जोर से चोदने लगा. फिर मैं उसके पास लिपट कर लेट गया उसके बड़े बड़े दूध मेरे सीने से चिपक गए और मैंने किस करना शुरु किया, अब मैंने उसके बूब की जोर जोर से पीटाई की जैसे ही मैं उसके बूब्स को मारता था, उसका बुब्ब उछलता था मैंने उसके बूब की बहुत पिटाई की.

अब मैंने को उसके दोनों टांग को फैलाया और मेरा लंड उसकी चूत पर सेट करके फुल स्पीड में चोदा. फिर मैंने उसको पेट के बल सुलाया, उसके बड़े बड़े बूब्स बेड पर दबकर चपटे हो गए. फिर भी बड़े लग रहे थे. और उसकी कलिंगड जैसी गांड को पिटाई की, मैंने उसकी गांड को जबरदस्ती ऊपर उठाया और उसको डॉगी स्टाइल रखा, उसके बूब लटक रहे थे, और मैंने उसकी जोर से गांड को खोलकर लंड को सेट किया और उसकी कमर को जोर से पकड़ कर एक जोरदार धक्का मारा. पर केवल आधा लंड ही उसकी गांड में घुस पाया था और उसके मुंह से चीख निकल गई, उसकी गांड बहुत टाइट थी. मैंने और जोर से धक्के पर धक्का लगाने लगा और वह चिल्लाती रही. पर मैं रुका नहीं, चुदाई की ठप ठप ठप की आवाज पूरे कमरे में गूंज रही थी और उसके बूब्स झूले की तरफ झूल रहे थे.

फिर मैंने उससे बिठाया और लंड को उसके मुंह के पास रखा और बोला इसको चूस लो, उसने मुंह नहीं खोला तो मैंने एक जोरदार थप्पड़ मारा, उसने थोड़ा सा मुंह खोला फिर मैंने उसके मुंह में अपना लंड घुसाया और उसके बालों को पकड़ा, वह मेरे लंड को धीरे धीरे चूसने लगी. थोड़ी देर बाद मैंने उसे लेटाया और मैं भी उसके बाजू में लेट गया और उसे किस करने और बुब्स को मसलने लगा. उसके बाद मैं उस पर हाथ और पैर डालकर सो गया, जब मैं उठा वह अपने घर चली गई थी.

loading...