चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

शादीशुदा बहन मुझसे खूब चुदी, पूरा वीर्य उनकी चूत में छोड़ दिया

loading...

यह बात 25/4/2014 की है. जब मेरी बीवी ससुराल से आई थी. वह मुझे बहुत मानती थी, उनकी ससुराल दिल्ली में है और वह हाउसवाइफ है. मेरे जीजा का बिजनेस है. मेरी दीदी की उमर २८ साल की है और उनका नाम रेनू है और मेरी उम्र २४ साल है. उनके बूब्स कमाल के हे जिनका साइज ३५ है. मेरी दीदी हॉट और सेक्सी लगती है उनका रंग गोरा और स्किन बहुत ही सॉफ्ट है, जिन्हे देखकर मेरा मन बहुत खुश रहता है. उनकी गांड भी जबरदस्त है और फिगर ३५-२६-३५ है, उनके बूब्स बिल्कुल सनी लियोन की तरह लगते हैं.

यह कहानी उन दिनों की है जब मेरी दीदी की नई नई शादी हुई थी. मेरे जीजा के साथ सुहागरात मनाने के बाद जब वह मायके आई तो और भी हॉट लग रही थी. जब वह घर पहुंची तब वह पूरी तरह से थक चुकी थी. वह खाना खाने के बाद अपने रूम को जाने लगी तभी मैं उनसे टकरा गया, मेरे शरीर में करंट दौड़ गया. में चुपचाप अपने रूम में गया जो की दीदी के पास था, में उसमें अकेला सोता हूं. मुझे बहुत अजीब सा लगा मैंने अपने सारे कपड़े उतार पर नंगा हो गया. शाम को जब मेरी आंख खुली तो देखा घड़ी में ७ बज चुके थे. मैं जल्दी से उठा और अपने लंड  में तेल लगाया और मुट्ठ मार दी, मेरे अंदर का माल निकल गया.

फिर मैं जल्दी से तैयार होने लगा मार्केट से कुछ सामान लाने के लिए. मेरे दिमाग में दीदी ही घूम रही थी. फिर मैंने सोचा चलो दीदी के रूम में देखते हैं, वह क्या कर रही है? मैं उनसे मिलने के लिए ऐसे ही उनके रुम में घुस गया मैंने देखा तो दीदी सो रही थी. उन्होंने नाइटी पहन रखी थी मैं उनके पास गया तो देखा दीदी सो रही थी. मैं पूरे जोश में आ चुका था मेरा लंड हीलोरे मार रहा था. मैं उन्हें छूने की कोशिश की पर पहले ऐसा नहीं हो पा रहा था फिर मैंने चुपके से उनकी नाइटी को हलके से उठाया देखा तो उन्होंने लाल पैंटी पहन रखी थी जो हीरे की तरह चमक रही थी.

loading...

मेने उन की पैंटी पर किस किया देखा तो उन्होंने क्लीन शेव कर रखी थी अपनी लाल चूत की, और फिर डर के मारे वहां से चला गया सामान लेने के लिए. जब मैं वापस आया तो देखा दीदी अकेली टीवी  वाले रुम में बैठी टीवी  देख रही थी. मैंने सोचा दीदी को कुछ पता नहीं चला, फिर मैं दीदी के पास सोफे पर बैठ गया. दीदी ने पूछा तुम्हारी पढ़ाई कैसे चल रही है? फ्रेंड्स मैं आपको अपनी पढ़ाई के बारे में बताना ही भूल गया. मेरा बीएससी मैथ से लास्ट इयर है. मैंने अपनी दीदी को बोला अच्छी तरह हो रही है मेंरी पढ़ाई. हम दोनों ने चाय पी, इसके बाद रात में खाना खाने के बाद में ऊपर छत पर निकल गया सोने के लिए.

loading...

हम लोग ऊपर ही सोते थे, मैं जल्दी ही सो गया. रात में लगभग २ बजे के बाद मुझे कुछ अजीब सा लगा. मुझे लगा कि कोई मुझे चुपके से जगा रहा हे, मैं जागा तो देखा कि मेरी दीदी खड़ी थी और वह नीचे चलने को बोल रही थी.

मैंने सोचा कोई बात होगी, जैसे ही मैं नीचे गया उन्होंने मुझे अपनी बाहों में भर लिया मुझे बड़ा मजा आ रहा था. मैंने भी कस के पकड़ लिया. वह नाइटी पहनी हुई थी क्या लग रही थी? मैंने उनकी नाइटी उतारी और उनकी तरफ देखने लगा. वह बोली क्या देख रहा है? मैंने एक हुस्न की परी देख रहा हु और वह हंसने लगी. उन्होंने बोला मोहित मैं तुम्हें इतनी ज्यादा अच्छी लगती हूं? तूने बोला क्यों नहीं? मैं तेरी ही वाइफ बन जाती. मैंने कहा मैं आपसे डरता था बहुत ज्यादा और मैंने लाल ब्रा को उतारने लगा.

अब मैंने फिर उसके बूब्स को सहलाने लगा, मैं उनके पूरे शरीर को सहला रहा था और मैंने फिर देर ना करते हुए उनके बूब्स पीने लगा, वह शरमा रही थी, उनकी धीमी आवाज मेरे लंड को उतावला कर रही थी चुदने के लिए, वह मोनिंग कर रही थी. और मैंने उनकी पेंटिं को उतारा आव देखा ना ताव और मैं उनकी सुनहरी चूत को चाटने लगा. मैं उनकी चूत को चाटते रहा कुत्ते की तरह बड़ी तेजी से.. दीदी को मजा आने लगा था. दीदी बोली जल्दी जल्दी चूस मेरे आमो को. मेने कहा रुको मेरी रानी सब कुछ चूसता हूं मेरी जान.

मैंने फिर रफ्तार को धीमा किया और मैंने उन्हें देर तक चूसा और अपना लंड उनके बूब को एक मे मिलाकर उस पर रगडता रहा, मुझे बड़ा मजा आ रहा था.

फिर दीदी ने बोला कि मैंरा थोड़ा और पियो मेरी चूत को.. मैंने मना कर दिया कहा यह मुझसे नहीं होगा. उन्होंने जबरदस्ती मेरे मुह को अपनी चूत में रगड़ने लगी मुझे अजीब सा टेस्ट लगा क्योंकि तब वह अपना पानी छोड़ चुकी थी.

फिर मैंने उनकी चूत में मुंह में डाल कर चाटने लगा और दीदी आह्ह ईई ओऊ ईई अह्ह्ह अय्य्य अह्ह्ह आवाज करने लगी. मैं और तेज करने लगा, मैं तब तक चाटता रखा जब तक उनका पूरा पानी मेरे मुंह में नहीं आ गया.

फिर मैंने दीदी को अंदर वाले रूम में चलने को कहा मैंने उन्हें अपनी गोद में उठाकर पहले बेड़ पर लेटा दिया, फिर मैं भूखे शेर की तरह उन पर झपट पड़ा, बहुत तेजी से मुंह में जीभ डाल कर किस करता रहा. फिर मैंने उनकी चूत में टॉफी डाली और बहुत तेजी से चूसता रहा, वह चिल्ला रही थी बहन चोद कर चोदेगा.

मैंने कहा रुको मेरी स्वीट हार्ट, मैंने उन्हें बेड से उठाकर सोफे पर बैठने को कहा. फिर मैंने उनके दोनों पैरों को उठाया और फिर धीरे से अपना लंड चूत में डालने लगा. में उन पर अपना लंड सहला रहा था, दीदी एक बोम्ब की तरह फटने को तैयार थी. मैं भी एक धक्का दिया. एक झटके में दीदी बोली मार ही डालेगा क्या? यह तेरी दीदी की चुत है इसपर सिर्फ तुम्हारा और तुम्हारे जीजा का हक है. मैंने फिर एक और धक्का दिया. मेरा लंड पूरा का पूरा अंदर उस सागर में समा गया.

फिर मैं दीदी को तेजी से चोदने लगा, वह भी पूरा मजा लेने लगी. मैंने पूछा दीदी आप को पता नहीं चला था दोपहर? तो उन्होंने बोला मुझे सब पता था और भी पता है तेरे बारे में, तू मेरे को बाथरुम में भी देखता था चुपके से. मैंने दीदी को फिर किस किया और वह मेने को बहुत देर तक किया. फिर हम दोनों ऊपर आ गए सोने के लिए.

फ्रेंड दीदी मेरा बहुत सपोर्ट करती थी. एक बार मेरी दीदी प्रेग्नेंट थी. तब मैं रात में उनके पास गया वह सो रही थी. मैंने उनकी नाइटी को उठाया और उनकी चूत को चाटने लगा.

दीदी एकदम जाग गयी और बोली क्या कर रहे हो? मैंने कहा जो करना चाहिए. वह बोली अभी नहीं कर सकती मैं पेट से हूं. तो मैंने कहा मेरा क्या होगा? उन्होंने कहा एक काम करो मेरी चूत पर अपना लंड ऊपर से ही रगड़ लो. बस मेने दीदी की चूत के ऊपर से अपना लंड रगड दिया और उन्होंने मेरा लंड  पकड़ कर जोरो से हिलाने लगी. मैं उनसे चिपट गया, दीदी ने पूरा माल अपने मुंह में डाल दिया.

कहानी शेयर करें :
loading...