चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

सगी भाभी को चोदकर प्रेग्नेंट कर दिया

loading...

हाय मेरा नाम वासु हे.मेरी ऐज 21 साल हे. मेरा लंड ८ इंच लम्बा हे. आपको पूरा मजा मिलेगा. किसी भी गर्ल,आंटी,वुमन सबको सुख दूंगा पक्का. आज की कहानी मेरे और मेरे भाभी के बिच हुए सेक्स की हे. मेने उनको केसे माँ बनाया. ये स्टोरी जब में कालेज में था. उसके एक साल पहले ही मेरे बड़े भैया की शादी हुई थी. मेरे भैया का नाम सुनील हे एंड भाभी का नाम प्रिया हे  उनकी ऐज २४ साल हे.

भैया दिखने में स्मार्ट हे इस लिए भाभी भी बहुत सुन्दर और स्मार्ट दिखती हे.उन्के मस्त बूब्स को देख मेरा मन बहक जाता हे और में उन्के नाम की मुठ मारता था. भैया इंजिनीअर थे और उनको ज्यादा घर से बाहर रहना पड़ता था भाभी और में ही घर में अकेले रहते थे क्यों की दादा-दादी मम्मी-पापा गाँव में रहते हे. इस लिए हम दोनों फ्रेंडली बाते और मझाक भी किया करते.

एक दिन भाभी अकेले सेड बेठी थी तो मेने कहा.

loading...

क्या हुआ भाभी आप क्यों सेड हो.?

loading...

वो बोली तुम्हारे भैया की याद आ रही हे.बहुत दिन से बहार हे वो..

में- भैया आ जायेगे जल्दी आप उदास मत हो और में हु ना आप के पास

भाभी- तुम तो मेरी जान हो बट तू नही समजेगा

और वो जाने लगी. तभी उनका लेग फिसल गया और वो गिरने वाली थी. मेने जल्दी से उनको पकड़ा और वो थेंक यू बोल कर चली गयी. मुझे अजीब सा लग रहा था क्यों की मेने उन्के बूब्स टच कर लिए थे. अब मेरा लंड तन गया था में तो पागल हो गया था. तभी भाभी बोली की में मार्किट हो के आ रही हूँ..ओक्क्के.

में- ओके भाभी.

अब घर में कोई नही था में एक्साइमेंट में डोर बंद करना भूल गया. और भाभी के नाम की मुठ मारने लगा. और उनकी फोटो मोबाइल में देख रहा था. तभी भाभी की आवाज आई की वासु कहाँ हो? मेने जल्दी से कपडे पहने और बहार आ गया. मुझे लग रहा था की भाभी ने कुछ देखा तो नहीं. भाभी ने कुछ बोला नहीं तो मुझे लगा शायद कुछ नहीं देखा. नाईट हो गयी थी. कुछ टाइम बाद भाभीने मुझे डिनर के लिए बुलाया. टेबल पर बेथ कर हम दोनों डिनर कर रहे थे तभी भाभी बोली .

भाभी- तेरे भैया से बात हुई मेरी वो कुछ दिन और बहार रह गए..(और वो सेड हो गयी)

में- भाभी आप सेड क्यों हो में हु न. आई लव यु ना.

भाभी- हां. तू ही तो मेरा सहारा हे पागल (और स्माइल करने लगी)

फिर कुछ देर बाद भाभी बोली की तू आज अपने रूम में क्या कर रहा था. में डर गया और बोला भाभी सॉरी, भैया को मत बोलना प्लीज.

भाभी- तो तुम एसा कर ही क्यों रहे थे. और मेरा नाम ले रहे थे.

में- भाभी आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो एंड आप जेसी कोई लड़की नहीं मिले मुजको जिसको में गर्ल फ्रेंड बनाऊ और आज आपको टच करके मेरा कंट्रोल नहीं रहा इस लिए..आई लव यु.

ये बोलके में अपने रूम में चला गया.

कुछ देर बाद भाभी आई और बेड में मेरे पास बेथ गयी और बोली वासु.

में उठा और बोला हां भाभी.

भाभी ने मुझे कसके पकड़ा और किस  करने लगी मुझे समज में नहीं आ रहा था.

किस करने के बाद भाभी बोली: तेरी कोई गलती नही हे में भी तेरे भैया से परेशान हूँ..एक तो वो घर पर रहते नहीं हे. एंड उनकी गलत हरकतों की वजह से उनका स्पैम काउंट बहुत कम हे एंड उनका लिंग भी बहुत छोटा हे. कास तू मेरा पति होता. में बहुत परेशान हूँ.

में- भाभी में आपके लिए कूछ भी कर सकता हूँ.

भाभी- सच्ची आई लव यु (और गले लगा लिया) अच्छा अब ये बता की तुजे मुझे देख कर क्या करने की इच्छा होती हे? तू कर ले में कुछ नहीं बोलूंगी.

में- भाभी आई लव यु सो मच.

और में उन्के बूब्स दबाने लगा और धीरे धीरे उन्के ब्लाउज और ब्रा निकाल दी और वो सिसकिया लेने लगी और में बूब्स पिने लगा.

कुछ देर बाद में..

वो बोली क्या मुझे कुछ नही करने देगा.

में बोला क्या भाभी.

भाभी-चल कपडे उतार और बेड पर लेट जा.

में बिना कपडे के बेड पर लेट गया. भाभी के बूब्स चूस चूस कर मेरा लंड तना हुआ था. अब भाभी ने पेंटी को छोड़ सब उतार दिया था. भाभी ने मेरा लंड हाथ में लिया और बोली तू तो बड़ा हो गया हे.तेरा लंड तो तेरे भैया से बहुत बड़ा हे. और वो लंड को पकड़ कर मुझे ब्लोवजोब देने लगी. मुझे बहुत मझा आ रहा था. कुछ देर बाद में बोला भाभी मेरा निकलने वाला हे. और भाभी ने मेरे लंड का पूरा पानी अपने मुह में ले लिया और पि गयी. अब मेने बोला भाभी मुझे अब आपका पानी पीना हे..और मेने भाभी को बेड पर पटक दिया.

और पेंटी उतार दी. उनकी चूत बिलकुल पिंक और गोरी थी.में देख के पागल हो गया.में उनकी चूत चाटने लगा. भाभी भी इसे एन्जॉय कर रही थी. कुछ देर बाद भाभी ने मेरा सर अपनी चूत में दबा दिया.और पूरा पानी मेरे मुह में आ गया.में वो सारा पानी पि गया.

मेरा लंड फिर से तन गया था.मेने लंड को पकड़ा और भाभी की चूत पर रख दिया.

भाभी बोली रुको कंडोम तो लगा लो.

में रुक गया भाभी कंडोम ले कर आई. और मेरे लंड पर लगा दिया. बोली चलो अब मेरी प्यास बजा दो.

और मेने चूत में लंड दाल दिया. भाभी की चूत से खून आने लगा क्यों की मेरा लंड भैया से बड़ा था.

मेने भाभी से बोला: दर्द हो रहा हे?

भाभी- हां पर तू करता जा.मुझे मजा भी आ रहा हे.

में- भाभी में आपको बहुत प्यार करता हूँ..आई लव यु.और झोर झोर से झटके मारने लगा.

भाभी-रुक.

में- क्यों.

भाभी- कंडोम निकाल दे. अब कुछ हो जाय मझे परवा नहीं तू.

मेने एसा ही किया. अब में भाभी के बूब्स दबा रहा था और झटके मार रहा था. कुछ देर बाद भाभी झड गई.अब मुझे भी १० मिनट हो गये थे. में झड़ने वाला था मेने भाभी से बोला भाभी मेरा निकलने वाला हे बहार निकलूं.

भाभी- नहीं तू मेरे अन्दर ही निकाल दे.

कुछ ही देर में मेने भाभी की चूत भर दी और उन्के उपर लेट कर बूब्स चूसने लगा. 15 मिनट बाद में भाभी से बोला आपने मुझे अन्दर झड़ने क्यों बोला.

भाभी- क्यों की तेरा भैया मुझे कभी माँ नहीं बना सकता.पर तू मुझे इतना प्यार करता हे इस लिए में तेरा बच्चा छाती हूँ.

में- अच्छा तो अब आप मेरे बच्चे की माँ बनोगी.

भाभी- एक बार करने से नहीं होगा यदि तू रोज मेरी हेल्प करे तो माँ बन जाउंगी करेगा हेल्प?

मेने ये सुना और मेरा लंड तन गया. मेने अपना लंड पकड़ा और भाभी की चूत में दाल दिया और बोला तो देर किस बात की हे. और लंड की चूत में डाल कर उनको किस करते हुए. ३-४ बार पूरी रात झडा. उनकी चूत मेरे स्पेम से भर गयी थी. १ मन्थ तक यही चलता रहा. और भाभी मुझसे प्रेग्नंट हो गयी.. वो बहुत खुस हुई. भैया ने अपनी कमी को छुपाने के लिए भाभी को कुछ नहीं बोला और अब हमारा एक बेटा हे. अब में भाभी को रोज मजा से चोदता हूँ.

loading...