चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

बुआ को चोदने का सपना सच हुआ

loading...

मेरी उम्र २३ साल है. मैं नागपुर से हूं. छुट्टियों में मैं अपनी बुआ के घर जाता था पुणे. मेरी बुआ की उम्र ३५ साल हे, उनके चुचे भी एक दम मस्त हैं और गांड भी बड़ी है. और वह बड़ी ही सेक्सी दिखती है, और मुझे बहुत प्यार करती है. छुट्टियो में काफी दिनों के बाद मैं अपनी बुआ के घर गया था. वह मुझे पहले से बहुत पसंद थी पर मैंने पहले कभी गंदी नजरों से नहीं देखा था. जैसे ही मैं उनके घर गया तो मुझे देखते ही बहुत खुश हो गई है और मुझे देखते ही गले से लगा लिया. जब उन्होंने मुझे गले लगाया तब उनके बड़े बड़े बूब मुझे मेरे चेस्ट पर फील हो रहे थे.

एक दिन में उनके यहां टीवी  देख रहा था बुआ नहा कर बाहर आई और मुझे बोला जाओ नहा कर आ जाओ. फिर मैं भी नहाने गया और बाथरूम में देखा कि बूआ की इस्तेमाल की हुई ब्रा और पेंटी रखी हुई थी. मेरे मन में क्या आया पता नहीं मैंने पैंटी उठाई और उसे सुंघा उसमें से क्या मस्त खुशबू आ रही थी? उस दिन मैंने पहली बार बुआ को  सोचकर मुठ मारी और सोचने लगा कि बुआ को कैसे चोदा जाए? दिन में बुआ जब झाडू मारती तो में उसके बूब्स को घूरता रहता था. बुआ ने भी एक बार गौर किया फिर पूछा की क्या हुआ? तो मैंने कहा कुछ नहीं और टीवी देखने लगा. फिर मैं बुआ को नहाते हुए देखने की कोशिश करता और उनको छूने की कोशिश करता. एक बार बुआ किचन में खाना बना रही थी तो उन्होंने मुझे आवाज दिया और बोली बेटा, वह डिब्बा उतार दे.

मैं बुआ के पीछे गया और उनसे चिपक गया और डिब्बा उतारने लगा क्योंकि किचन बहुत छोटा सा था और मेरा लंड बुआ की गांड में थोड़ा सा घुस गया और उन्होंने मुझे देखा मैं बिना कुछ बोले वहां से चला गया. दिन मेरे फूफा जी का नाइट शिफ्ट चालू हो गया हूं एक हफ्ते के लिए, तो मैंने सोचा यही सही मौका है बुआ को पटाकर चोदने के लिए. अगले दिन फूफाजी नाइट शिफ्ट पर चले गए और बुआ ने बोला आज से तुम मेरे कमरे में सोना.

loading...

तो मैंने भी हा कह दिया और रात खाना खाने के बाद हम सोने के गए रात में बुआ नाइटी पहन कर सोती है, रात को बुआ के सोने का इंतजार करने लगा.

loading...

फिर धीरे धीरे मेने बुआ के बूब्स पर हाथ रखा और दबाने लगा. बुआ ने कुछ रिस्पांस नहीं दिया मैंने अपने हाथ से बुआ की मैक्सी धीरे धीरे ऊपर की लेकिन मुझे डर लग रहा था की वह उठ गई तो क्या होगा? पर मेरे मन में उनको चोदने का ख्याल आ रहा था. मैंने धीरे धीरे बुआ की चूत पर अपना हाथ रख दिया.. बुआ की पीठ मेरी तरफ थी. उनकी गांड बहुत बड़ी थी. फिर मैंने शॉर्ट से अपना लंड बाहर निकाला और उनकी पेंटी नीचे कर के गांड से सटा दिया और थोड़ा सा प्रेस किया, इतने में बुआ उठ गई और बोली क्या कर रहे हो यह? मैं बहुत डर गया.

मैंने उनसे कहा बुआ गलती हो गई माफ कर दीजिए, आगे से ऐसा कभी नहीं करंगा. तो उन्होंने कहा नहीं मैं तेरी मम्मी से बोलूंगी. तू मेरे साथ यह सब कर रहा था. फिर मैंने रोना स्टार्ट कर दिया उनसे कहा प्लीज मुझे माफ कर दीजिए आप जो कहेंगी मैं करूंगा.. उन्होंने कहा सच्ची में करेगा ना? मैंने कहा हां, मैं करुंगा.. तो बोली चल ठीक है, फिर उन्होंने कहा आज हम रासलीला करेंगे.. मेरे तो होश उड़ गए. फिर उन्होंने अपनी पेंटी उतारी और कहा चल मेरी चूत चाट मैं बहुत दिन से प्यासी हूं..

फिर में उन पर टूट पड़ा और उनकी चूत चाटने लगा. बुआ आह्ह औऊ अह्ह्ह ऐई औऊ और जोर से चाट कुत्ते कहने लगी. मैंने अपनी जीभ पूरी बुआ की चूत में डाल दी और चाटने लगा.. वहऔउ अय्य्य यस्स ई ओऊ ओह्ह ईई अस्स यस बोल रही थी. बुआ के पुरे बदन में अन्तर्वासना भरी हुई थी. ५ मिनट बाद बुआ ने मेरा सर अपनी चूत में दबा दिया और वह जड गई, उनके चत का पूरा पानी मैंने पी लिया, वह काफी टेस्टी था. फिर बुआ उठी और उन्होंने मेरी पेंट खोली और मेरा लंड  निकाल कर चूसने लगी. मैं तो सातवे आसमान में था.

वह किसी लोलीपोप की तरह मेरा लंड चूस रही थी और कुछ देर बाद मेरा निकल गया बुआ ने सारा पी लिया.. में उनके बूब्स मसलने लगा  और एक हाथ से उनकी चूत में उंगली डालकर अंदर बाहर कर रहा था.. फिर उन्होंने कहा अब बर्दाश्त नहीं होता जल्दी से अंदर डाल दे ना… फिर मैंने भी अपना लंड उनकी चूत पर टिकाया और एक जोरदार धक्का मारा.. वह चीख पड़ी, बोली साले धीरे कर.. मैं काफी दिनों से नहीं चुदी हूं.. फिर मैं धीरे धीरे अंदर बाहर कर रहा था और थोड़ा रुक कर मैंने एक जोरदार धक्का मारा तो पूरा लंड  चूत में चला गया..

वो बोली की धीरे कर कुत्ते फिर मैं और जोर से धक्के मारने लगा और उनको भी मजा आने लगा.. फिर वह आऔउ अह्ह्ह ओह्ह हहह यस्स हहह यस हहह इह्ह औउ इह्ही  करने लगी है और अपनी गांड उठा उठा कर लंड लेने लगी, और उन्होंने मुझे कस के पकड़ लिया जड़ गयी पर में धक्का लगाता रहा. १५  मिनट बाद मेरा निकलने वाला था. मैंने पूछा कहां निकालूं? तो वह बोली मेरी चूत बहुत प्यासी है, अंदर ही निकाल दे. और मैंने अपनी स्पीड तेज कर के अपना माल उनकी चूत में छोड़ दिया और उनके ऊपर ही लेट गया.. और कुछ देर बाद हम 69 की पोजीशन में आ गए और मैं उनकी चूत चाट रहा था और अचानक उठ कर वो जाने लगी.. तो मैंने पूछा क्या हुआ?? बुआ बोली की पेशाब लगी है, तो मेने बोला यही कर लो तो उन्होंने बोला क्या? में बोला हा रही कर लो और मुंह खोलकर बैठ गया.. उन्होंने मेरे मुंह पर पेशाब किया और मैं पी गया.. उन्होंने भी मेरा पेशाब पिया.. उस रात हमने ३  बार सेक्स किया और एक हफ्ते तक पहर रात हमारी रासलीला चली.. फिर वहां से अपने घर वापस आ गया..

loading...