चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

चुदक्कड़ बुआ को मौके का फायदा उठा के चोद लिया

loading...

Sex Stories यह स्टोरी मेरी और मेरी बुआ की  है मैने किस तरह से मेरी बुआ को चोदा और आज तक उनकी चूत से मजे लेता हु. अब में आपको आज की स्टोरी पर लेकर आता हूं.

उस समय समय की बात है जब मैं ११वीं और १२वीं की पढ़ाई करने दिल्ली गया हुआ था. मेरी बुआ घर में अकेली रहती है. मैं उन के बारे में बता दूं. उसकी उमर ४५ साल की है. और उसका रंग बिल्कुल गोरा है.  उसके बूब्स ज्यादा बड़े तो नहीं है पर शेप पूरी सेक्सी है. गांड के बारे में तो मैं क्या बताऊं ओह माय गॉड. इतनी उठी हुई गांड उसकी कि जैसे कोई पोर्न स्टार की गांड हो. उनकी हाइट ५ फुट ८ इंच है. अब मे अपनी आज की स्टोरी पर आता हूं. मेरे फूफा जी को मरे हुए 3 साल हो चुके थे, और मेरी बुआ मेरे फूफा के गुजर जाने के बाद घर में एकदम अकेली रह गयी थी.उसके बाद हमारा मेरी बुआ के घर पर जाना भी अब बहुत कम हो गया था. बुआ एक सर्विस करती थी जो की एक प्रायवेट बैंक था. तो जब मेरी बुआ को पता चला की  मैं 2 साल के लिए दिल्ली आ रहा हूं मेरी पढाई करने के लिए तो उनके फेस पर बहुत खुशी थी क्योंकि मेरे उनके पास आ जाने से उनको अकेलापन महसूस नहीं होगा.  जिस दिन मैं उनके घर पहुंचा रात ८:५५  का टाइम हुआ था. उस समय बुआ ने काली नाईटी पहनी हुई थी.

उन्होंने अंदर ब्रा नहीं पहनी हुई थी, जिसकी वजह से मैं उनके बूब्स साफ साफ देख पा रहा था. मेरी बुआ को गेट पर देख कर ही मैं पागल सा हो गया. बुआ ने मुझे गले लगाया. मुझे उनके बूब्स साफ साफ  महसूस हुए. और उन्हें मेरा लंड भी साफ साफ महसूस हुआ था, क्योंकि उन्हें देखते ही मेंरा लंड तन गया था. लेकिन बुआ ने इस बात को इग्नोर कर दिया. फिर मेरी बुआ ने मुझसे क़हा की तुम सफर कर के आये हो तो पहले तुम नाहा धोकर फ्रेह्स हो जाओ तब तक में हमारे लिए खाना बना लेती हु. तो मैने भी कहा की ठीक हे. में नहाने के लिए चला गया और वह किचन में हमारे लिए खाना बनाने लगी. में जब फ्रेश होकर बहार आया तब मुझे किचन से बहोत ही अच्छी खुशबु आ रही थी. में समज गया की बुआ ने मेरी आने की ख़ुशी में कुछ खास बनाया हे. फिर में अपने कपडे पहन कर टीवी देखने लगा. और थोड़ी देर में बुआ ने आवाज लगाई की चलो बेटा खाना खाने के लिए, खाना तैयार हो गया हे. फिर हम दोनों ने डिनर किया और में डिनर कर के टीवी देखने लगा. फिर बुआ ने उसका किचन का सब काम पूरा कर लिया और वह भी मेरे पास आकर टीवी देखने बैठ गयी. फिर हम दोनों ने बहोत सारी बाते की और हम दोनों ने उस रात २ बजे तक बातें की और फिर सो गए. बहोत थका हुआ होने के बावजूद भी मुझे नींद नही आ रही थी क्योंकि बुआ के सेक्सी बदन को देख कर मेरे मन में अजीब अजीब ख्याल आने लगे थे. फिर मुझे धीरे धीरे कब जाकर आँख लग गयी और में सो गया यह मुझे भी पता नहीं चला.

loading...

दुसरे दिन मेंरी आँख सुबह ५ बजे खुल गयी.  मैंने देखा की बूआ बड़े सेक्सी पोज में सो  रही है. बुआ की एक टांग फ़ोल्ड थी.  दूसरी सीधी थी. और वह राइट साइड को करवट लेकर सोई थी. मेरा लंड तो मानो के पागल हो रहा था यह नजारा देख कर. और बुआ की नाईटी घुटनो  से भी ऊपर आ गई थी, और उनका एक बुक्स काफी हद तक बाहर था, और बुआ के फेस पर एक स्माइल दिख रही थी. बुआ को इस सेक्सी अंदाज में देख कर मुझसे रहा नहीं गया और मेंने बुआ के सामने मेरा लंड बहार निकला और लंड को हाथ में पकड़ कर मुठ मारने लगा. बुआ का सेक्सी शरीर देख कर मुझे बहुत सेक्स चढ़ने लगा और कुछ देर बाद मेरा हाथ माल निकल गया और मैं सो गया.

loading...

जब १० बजे मेरी आंख खुली तो बुआ नाहा के बाहर निकली थी. बुआ ने उस टाइम लोवर और टाइट टी शर्ट पहन रखी थी. उस दिन संडे था और बुआ को बेंक के काम से छुट्टी थी.  मैं बूआ को देख कर बहुत ज्यादा पागल हो रहा था. मैं फ्रेश होकर नहा के ब्रेक फास्ट करने आया तो बुआ ने बोला कल तू अपने एडमिशन की बात करने चले जाना तो मैंने कहा ठीक है बुआ में कल सुबह मेरे एडमिशन के बारे में बात करने के लिए चला जाऊँगा.

दूसरी दिन करीब १ बजे जब मैं बुआ के पास आया तो मेरे होश उड़ गए, बुआ की रूम के बाहर किसी आदमी के शूज है. मैं हैरान हो गया लेकिन मुझे लगा कोई जानकार होगा. मैंने पडदे से धीरे से देखा तो मेरी प्यारी बुआ पूरी नंगी थी और वह बंदा भी एकदम नंगा था. और  बुआ उस आदमी के एकदम पागलों की तरह होठ चूस रही है. फिर मैंने देखा कि बुआ ने उसका लंड अपने हाथ में लिया, और फिर उसमें मेनफ़ोर्स  का चॉकलेट फ्लेवर वाला कंडोम चढ़ा दिया. मेरा तो मन कर रहा था की वाही पर जाके उसे चोद दू. लेकिन मुझे तो लाइव चुदाई देखने में भी बहोत ज्यादा मजा आ रहा था. आप यह चुदाई स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है। 

इस बूआ ने एक लंबी स्मूच ली और उसको पूरी तरह से लीपट गई. फिर उसने बूआ के बूब्स हाथो में लिए और जोर जोर से मसलने लगा. फिर मैं भी अपना लंड निकाल कर मसलने लगा. फिर उसने बूब्स मुह में लिए और बुआ को बिस्तर पे लिटाया और वह कह रही थी फक मी मुझे बड़ा मजा आ रहा हे. फिर बुआ का उसने कान काटा बुआ तड़प उठी बुआ ने लंड पकड़ा और बोलाआह्ह अह्ह्ह ओह्ह्ह येस्स्स्स डाल दो राज अह्ह्ह ओऊ ओह्ह्ह अमम्म डाल दो इसे अब नहीं रुका जा रहा हे मुझसे. वह बुआ की चूत में उंगली  डाल रहा था. जोर जोर से चूत को चाट भी रहा था. बुआ और पागल सी हो रही थी. बूआ की आवाजे अहः हहह ह्ह्ह ओह्ह ओह्ह आयी ओह्ह उम्म्म्म ओह्ह आऊउ राज आह्ह  मेरे बाबू ओह्ह्ह अह्ह्ह आई डाल दो राज अब नहीं रहा जाता. फिर उसने अपना लंड बुआ की चूत पर रखा और जोर से एक झटका मारा. वह चिल्लाने लगी और बुआ ने उसकी आंख बंद कर ली फिर बुआ के अंदर वह  जोर जोर से झटके मारता रहा. और वह अह्ह्ह ओह्ह आह्ह राज आह्ह अह्ह्ह आराम से ह्ह्ह्ह येस्स आह्ह ओह्ह राज धीरे से करो आह्ह ओह्ह्ह.

करीब १० मिनट बाद उसने लंड निकाला और बुआ के मुह के पास ले गया. मुझे लगा यह जड़ने वाला है. पर  बुआ ने उसका लंड मुंह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगी. बुआ को यह करते हुए बहुत मजा आ रहा था. फिर उसने बुआ के बाल पकड़े और जोर जोर से झटके देने लग गया. कुछ देर बाद वो झड़ गया और दोनों ने कपड़े पहन लिए. फिर मैं ठीक २ मिनट बाद अंदर आया. बुआ ने बोला मेरा बच्चा आ गया तो मैंने बोला हां. बुआ ने मुझे अपनी गोद में बिठा लिया.

फिर बुआ ने कहा यह हमारे उपर रहते हैं, तुजसे मिलने आए हैं. मैंने मन में कहा मेरा लंड मुझे मिलने आये हे, यह जो करने आया था मैंने वह देख लिया है. अब मैं बुआ की चूत को  बडे प्यार से मार सकता था. उस गांडू के जाने के बाद  मैने बुआ को सिड्यूस करना शुरू किया. मैंने बुआको बोला की आप इन कपड़ों में आज की बहुत सेक्सी लगती हो. बूआ हस पड़ी और बोली की बुआ हु में तेरी. मैंने कहा बुआ हो इसीलिए तो इतनी सेक्सी हो.

रात में बुआ ने पिंक नाईट सूट पहना था. मैने टीवी चालू किया और इंग्लिश मूवी लगा दी. कुछ देर बाद उसमें हॉट सीन चल रहा था. बूआ कुछ नहीं बोली चुपचाप देखती रही. मैं समझ गया कुछ हो सकता है मैंने बोला बुआ आपको गर्मी नहीं लगती है. तो वह बोली लगती है पर कपड़े थोड़ी उतार दूंगी. मैंने कहा क्यों? तो उसने कहा की तू अब बड़ा हो गया हे. तो मैंने कहा तो हुआ?  मैं किसी को नहीं बोलूंगा. में आप के साथ २ साल हु आप फ्रेंक हो जाओ. बुआ ने कुछ देर सोचा फिर उसने ऊपर की नाईट शर्ट की जो सूट  में होती है वह उतार दी.  बुआ को शर्म आ रही थी, तो मैंने बोला शर्माओ मत  मैंने दोपहर में सब कुछ देख लिया है. बुआ के होश उड़ गए यह सुनकर और वह बहुत डर गई थी.

बुआ ने कहा क्या देख लिया है तुमने? मैने कहा वही जो राज अंकल कल नंगा करके कर रहे थे. बुआ ने कहा की पागल हो गया है क्या तू? दिमाग ठीक है तेरा? मैंने बोला चॉकलेट फ्लेवर पसंद है आपको. यह सब सुनकर वह शांत हो गई और बोली तू इधर आ. मुझे गले लगाया और बोली बच्चे तू ही बता में क्या करूं? अकेली रहती हु कोई भी साथ नहीं रहता रराज से ही में ज्यादा क्लोज हु. तो बस अपने पति की कमी पूरी करवा लेती हूं. औरत की भूख सिर्फ यही होती है, और कुछ नहीं. और वह रोने लगी.

मैंने कहा रो मत बुआ. और बुआ के गालों पर किस किया. बुआ चुप थी. फिर मैंने बुआ को बोला अब से मैं तुम्हारा सब कुछ हूं पती, बॉयफ्रेंड, सब. वह शोक्ड हो गई और बोली क्या बकवास  कर रहा है तू? मैंने बोला इसमें गलत क्या हे दुसरे तुमको चोदते हे लो लोग क्या  कहते होंगे? इससे अच्छा मेरे साथ सेक्स करो कोई शक नहीं करेगा. बुआ ने कुछ ना बोलते हुए सोने चली गई. मैने बुआ के सोने का इंतजार किया. बुआ के सोने के बाद मैंने बुआ की टांग पर टांग रख दी और हाथ बूब्स पर. बूआ सो गई थी.

फिर कुछ देर बाद मैंने उनके पजामे के ऊपर से उनकी गांड पर अपना लंड फेरा. बुआ जाग गई और बोली बेटा क्या कर रहा है? मैंने बोला बूआ आई लव यू, में तुम्हे बहुत प्यार करता हूं. सब कुछ दूंगा जो कहोगी वह करूंगा बस मुझे अपना बना लो. बूआ ने बोला देख यह रिश्ता राज के रिश्ते से बहुत ज्यादा बुरा है. लोग मुझे न जाने क्या बोल देंगे. तो मैंने कहा यहां हमे कोई नहीं जानता. और यह बात कभी बहार नहीं जाएगी तो तुम डरो मत.

मैंने जोर से उनके ओठ अपने ओठ में लीए. बाद में वह मेरा साथ दे रही थी. बुआ ने कहा   रुको जरा दो मिनट. बूआ ने अलमारी में से एक कंडोम का पैकेट निकाला और बेड पर रख दिया. मैं समझ गया फिर बुआ बोली पूरे कपड़े उतार दो. मैं २ मिनट में अंडरवेअर में आ गया. बूआ बोली इसको भी निकाल दो. मैंने बोला पहले अपने कपड़े उतार दो जान तो बूआ हस पड़ी और उसने अपनी ब्रा उतार दी और बोला लो.

फिर मैंने बुआ को बोला सेक्स भरा हुआ हे तुम्हारे अंदर. बूआ मुस्कुराई और बोली उसको दबाओ और चुसो. मैं एक हाथ से दबाता और दूसरा मुंह में लेकर चूसता. अब बुआ भी गर्म  हो गई थी. वह सिसकियां लेने लगी थी. फिर उसने मेरा लंड पकड़ा और बोली वह बहुत बड़ा हो गया यह तो छोटा सा देखा था. और कंडोम चढ़ाने लगी.  मैंने बोला बुआ  नीचे के भी उतार दो. बुआ ने पजामा उतार दिया और वह सिर्फ पेंटी में थी. आप यह चुदाई स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है। 

मैंने बोला हुआ एक काम करोगी उसने कहा बोलो मैंने बोला अपनी वह ब्लेक स्टेप वाली सैंडल पहन लो. उसने बोला क्यों? मैंने बोला मैंने ब्लू फिल्ममें  देखा हे. गर्ल्स पहनकर सेक्स करती है. तो बुआ ने अपने पेर मेरे लंड पर रख दीए. ओह माय गॉड ब्लैक नेल पॉलिश और दूध की तरह गोरे पैर. मैने पेर पकड़े और चुमने लगा, उनके पेर का अंगुठा चूसने लगा. ये कहानी आप हिंदी पोर्न स्टोरीज़ डॉट कॉम पर एन्जॉय कर रहे हो. बूआ कहती है क्या कर रहा है तू यह? मैंने बोला जान बोलो. वह बोली जल्दी करो बाबु सोना भी तो है हमें. मैंने देर ना करते हुए बुआ की पेंटी नीचे कर दी और उनकी चूत मेरे पास ही आ गई.

मैंने करीब 5 मिनट तक चाटी और बुआ की आवाज़ आह्ह हह्ह्ह ओह्ह्ह उम्म्म्म ओह्ह्ह अह्ह्ह्ह औऊउ ओम्म्म आ रही थी. मैं समझ गया बुआ लंड मांग रही है. मैंने लंड बुआ के हाथ में दिया. बुआ ने अपने चूत के ऊपर रख दिया. मैंने हाथ से चूत में डाला और तिन चार झटके मारे. लंड अंदर जा चुका था. फिर क्या था २० जटको के बाद में बुआ का पानी निकल गया और बूआ खुश हो गई. और फिर बुआ ने मेरा लंड मुंह में लिया और खूब चूसा.

फिर मैंने बुआ की गांड देखी और कहा इसमें डालू. तो बुआ मना करने लगी, मैंने कहा डालने दो. तो कहती के नही बच्चे दर्द होता है. मैंने कहा फिर चूत में डालने दो. मैने बुआ की चूत में फिर से लंड डाला. और करीब ४ मिनट के बाद मैं भी झड़ गया. उस रात हम पूरे नंगे सोए और फिर रोज रात हम चुदाई करते थे. और वह सिर्फ ब्रा पैंटी में और मैं सिर्फ अंडरवीयर में रहता था शाम के टाइम पर. और बुआ का जब मर्जी मुड बना देता था में कई बार तो खाना बनाते बनाते पीछे से टिका देता था और फिर स्मूच कर के सीधा रूम के बेड पे.

कहानी शेयर करें :
loading...