चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

दीदी सामने थी और उनकी सहेली टेबल के नीचे मेरा लंड चूस रही थी

loading...

सभी मित्रों को मेरा सेक्सी सलाम. मैं इस साइट का नया ऑथर हूं, यह मेरी पहली कहानी है जो पूरी तरह से सच्ची घटना है, जो मेरे और मेरी सेक्सी दीदी के सुपर सेक्सी फ्रेंड के बीच हुई थी. आपका सभी का ज्यादा टाइम वेस्ट ना करते हुए मैं स्टोरी पर आता हूं.

मेरा नाम संकेत है और मेरी उम्र २३ साल है. मेरी बहन का नाम निशिता है उन की उम्र २५ साल है और बहुत ही सेक्सी बदन की मल्लिका है. बात आज से एक साल पहले की है. एक दिन हमारे घर पर दीदी की एक नई दोस्त आई थी जिसका नाम दिशा था और वह दीदी के साथ कॉलेज में पढ़ती थी, और कुछ साल से बाहर रहती थी.

जब मैंने उसे देखा तो देखता ही रह गया. वह छोटी सी हाईट की लडकी क्यूट थी, लेकिन सुपर सेक्सी लड़की थी. रंग में गोरी और बदन से स्लिम. उसका फिगर ३४-२६-३६ था. उसके बूब्स कमाल के थे जो उसके टॉप में एकदम गजब लग रहे थे.

loading...

मेरी नजर उस पर से हट ही नहीं रही थी और उसने भी मुझे उसको घूरते नोटिस किया और एक स्माइल कर दी. उसके बाद मेरी दीदी ने उसको मुझसे इंट्रोडक्शन करवाया और मैं उसे हाथ मिलाते हुए बस उसकी शानदार बूब्स को घुर रहा था, उसने भी नोटिस कर लिया और स्माइल दे कर चली गई.

loading...

फिर हम बैठकर तीनो बातें कर रहे थे तो मैं किचन में पानी लेने गया वापस आया तो वह लोग अपने पुराने बॉयफ्रेंड की बातें कर रहे थे कि कैसे दिशा कॉलेज के टाइम से चालू थी और दो तीन बॉयफ्रेंड से एक साथ चुदवाती थी, मुझे पता चला मेरी दीदी भी कम नहीं थी वह भी दो तीन लड़कों का लंड ले चुकी है.

फिर मैं आ गया और दीदी उसके लिए कॉफी बनाने गई तो मैं और निशा बातें कर रहे थे, तो उसने फिर मुझे उसके बूब्स को घूरते पकड़ा और बोली कि अगर अच्छे लगे तो पैक कर दूं.

मैं हडबडा गया और समझ गया की लड़की चालू है और मैंने भी कह दिया पहले टेस्ट लेना होगा.

तो उसने स्माइल के साथ कहा जब भी टेस्ट करना हो बता देना. टेस्ट और बेस्ट दोनों हो जाएगा.

उतने में दीदी आ गई और हम ठीक हो गए. फिर दीदी ने कहा कि चलो हम लंच करते हैं और हम टेबल पर बैठे, दीदी और दिशा एक साथ बैठे थे और मैं उनके सामने बैठा था.

मैं नीचे से दिशा के पैरों पर उंगलियां फेर रहा था कि अचानक मुझे मेरे लंड पर कुछ महसूस हुआ, मैंने देखा तो निशा का पैर था. वो मेरे लंड को दबा रही थी पैरों से. फिर मैंने अपना लंड चुपके से बाहर निकाल लिया और निशा उसको फुट जॉब देने की कोशिश करने लगी.

अचानक से दीदी का कॉल आ गया तो वह कॉल अटेंड करने के लिए बाहर गई और दिशा तुरंत टेबल के नीचे बैठकर मेरा लंड हिलाने लगी, उतने में दीदी आ गई वापस और पूछने लगी दिशा कहां है? तो मैंने कह दिया कि वह बाथरुम गई है.

और निचे दिशा मुझे नोटि स्माइल देते हुए मेरे लंड को हिला रही थी, मेरी हालत बहुत खराब थी.

फिर अचानक उसने मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

मेरे मुह से जोर से अआह्ह निकली तो दीदी ने पूछा कि क्या हुआ? तो मैंने कहा बस ऐसे ही जरा जुबान दातों में आ गई थी.

उधर दिशा लपालप मेरा लंड चूसने में लगी थी और मेरे सामने मेरी बहन थी तो मैं कुछ कर भी नहीं पा रहा था.

फिर दिशा ने अपने टॉप ऊपर कर के मुझे अपने शानदार बुब के दर्शन करवाएं, फिर वो मेरे लंड को अपने दोनों बूब्स के बीच में रख कर ऊपर नीचे करने लगी. ऊपर से जब लंड ऊपर आता तो उस पर किस कर देती, मेरी हालत और खराब हो गई.

अचानक से दीदी का चम्मच नीचे गिरा और वह उसे उठाने नीचे झुकी तो उसने सब देख लिया की दिशा के मुंह में मेरा लंड है.

उसने मुझे और दिशा को खड़े होने को बोला और मैं वहां बिना पैंट के लंड लटकाए खड़ा था और दिशा ऊपर से नंगी थी.

दीदी की नजर मेरे लंड पर थी जो दिशा के थूक से चमक रहा था. और फिर दीदी इससे पहले कुछ बोलती दीशा ने दीदी को पकड़कर किस करना शुरू कर दिया, मेरा मुंह तो खुला का खुला ही रह गया यह देख कर.

मेरी दीदी थोड़ा घबरा गयी फिर उसकी नजर किस करते मेरे लंड पर पड़ी, तो उन्होंने कीस का जवाब देना शुरु कर दिया और फिर वह दिशा के बोबे दबाने लगी और दिशा उनके बोबे दबाने लगी.

धीरे धीरे दोनों लड़कियां नंगी हो गई और फिर दीदी ने मुझे कहा कि मैं तो तब से तेरा लंड लेना चाहती थी जब से तुझे बाथरूम में हिलाते देखा है, लेकिन कभी कह नहीं पाई.

फिर मैंने भी दीदी के बूब्स को दबाया और कहा कि मैं तो शुरु से ही तुज़े इमेजिन कर के ही हिलाता हूं फिर मैं दीदी को किस करने लगा अब नीचे दिशा मेरा लंड  चूसने लगी.

मै नीचे लेट गया और दिशा और दीदी दोनों बारी बारी से मेरा लंड चूसने में बिजी थी, मैं बहुत खुश था कि आज तो दो हुस्न की परीया सेक्सी लड़कियां मेरा लंड चूस रही है.

फिर मैंने दिशा को इशारा किया और वह मेरे मुंह पर अपने बूब्स देकर चुसवाने लगी, और दीदी मेरी गोटियां और लंड चूसती रही. फिर मैंने दिशा को अपने मुंह पर बैठा लिया और उसकी मस्त बिना बालों वाली चूत को चूसने और चाटने लगा, और दिशा उलटी होकर नीचे जुक कर दीदी को किस करने लगी और दीदी मेरा लंड हिला हिला चूस रही थी बीच बीच में.

फिर दोनों ने फिर से मिलकर चुसाई चालू कर दी लंड पर. मेरा निकलने को आया था मैंने दीदी से कहा कि मेरा निकलने वाला है. तो दीदी और दिशा ने उसका सारा पानी पी लिया और एक दूसरे के बूब्स पर थूक कर मसलने लगी. दिशा की चूत ने भी पानी छोड़ना शुरू कर दिया जिसको मैं बड़े मजे से चूसने लगा..

फिर दिशा मेरे ऊपर से हटकर मेरा लंड की तरफ गयी और दीदी मेरे पास आकर मुझे किस करने लगी. दिशा मेंरे सोए हुए लंड को हीलाने के लिए उसको वापस चूसने लगी और मैं दीदी के बूब्स चूस रहा था. जब थोड़ी देर में लंड वापस खड़ा हुआ तो दिशा बहुत खुश हुई और मेरे लंड पर चूत रख कर बैठ गई, उसका फेस मेरी तरफ था और दीदी मेरे फेस पर चूत रख कर बैठ गई.

और फिर दिशा मेंरे लंड पर उछल उछल कर चुदवाने लगी और आऊअ अह्ह्ह औउ अहह एस एस आयी आयी ऐऊ ईई अऊ फह ऊह्ह ओम्म्म ओऊ उईई औउ ईई इसस आवाज करने लगी. इधर मेरी दीदी की चूत में जोर से चूस रहा था, तो दीदी की भी सिसकियां गूंजने लगी आह्ह अहह अय्य्य अहा खाजा मेरे भाई चूत को बहुत हरामी है मेरी चूत खाजा इसको पुरा खाजा.

और मैं तेजी से चूस रहा था और बोला बहुत टेस्टी है तेरी चूत मेरी रंडी बहन उम्म्म.

फिर वह दोनों रंडीपना दिखाते हुए ऊपर से किस करने लगी एक दूसरे को और बूब्स दबाने लगी. और फिर दीदी नीचे झुक कर मेरे लंड और दिशा की चूत पर थूक कर चाटने लगी, बीच बीच में मेरा लंड निकाल कर उसे चूस कर वापस अंदर डाल लेती.  फिर दिशा का हो गया मुझे मेरे लंड पर गर्म लावा का एहसास हुआ, दिशा उतर गई.

फिर मैंने दीदी को लेटाया और उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा और उधर दीदी मुझे गाली देते हुए बोलने लगी बहनचोद चोद अब कब से तड़पा रहा है.. डाल अंदर बहन के लोड़े..

फिर मैंने अंदर डाल दिया और दीदी को चोदने लगा और दिशा दीदी के बूब्स चूसने लगी और मैं दीशा की गांड में उंगली डालकर हिलाने लगा. फिर निशा दीदी के मुंह पर अपनी गांड चटाने लगी और दीदी सिसकियो के साथ उसकी गांड चाटने लगी और चिल्लाती रही आह्ह अहह औऊ उएस्स्स चोद साले बहन चोद अपनी रंडी बहन की चूत.. मजा आ गया रे तेरे लंड में दम है. फिर दीशा बोली हां लंड में काफी दम है मजा आ गया आज तो, आज तो गांड भी मरवा कर जाऊंगी.

मैंने भी कहा आज वैसे भी तेरी प्यारी गांड मारे बिना जाने नहीं दूंगा जानेमन.

फिर मैं दिशा को किस करने लगा और उसके बूब्स दबाने लगा और नीचे दीदी को चोद रहा था और दीदी निशा की चूत चाट रही थी.

फिर दीदी और दिशा का हो गया और मैं भी अब झड़ने वाला था तो मैंने पूछा कहां निकालूं? दोनों ने कहा हमारे बूब पर.

मैंने दोनों के बुब पर मलाई थी बारिश कर दी. दोनो रंडियां एक दूसरे के बूब्स से मेरा रस चाट कर खा गई और मेरा लंड अच्छे से चाट कर साफ कर दिया..

loading...