चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

घर में लता की कुवारी चूत चोदकर पानी निकाला

loading...

Hindi Sex Kahani हेलो दोस्तों मेरा नाम राज है मैं 22 साल का एक लड़का हूं. मैं एक गांव में रहता हूं. मेरे गांव में एक लता नाम की 18 साल की लड़की है, जो कि मेरे घर पर आया करती थी. एक दिन जब वह मेरे घर पर आई तो मैंने देखा कि उसके बूब्स छोटे छोटे दिख रहे थे. मैं उससे घूरता रहता और वह चली जाती. मैं उसे चोदना चाहता था पर वह अभी छोटी थी. वह भी मेरी तरफ देखती थी पर मुझे डर लगता था कि वह घर पे ना कह दे. एक दिन जब वह मेरे घर पर आई तो मैं जानबूझ कर मेरा लंड निकाल कर बाहर रख दिया. ताकि वह मेरे लेंड को देखे और उसके मन में चोदने के विचार आने लगे. मेरे लंड की साइज़ ७ इंच है, जब वह मेरे पास से निकली तो मैंने जानबुज के अपनी पेंट निचे उतार दी.

जब उसका ध्यान मेरे लंड के ऊपर था और वह देखती ही रह गयी. मैं जानबूझ कर अपने हाथ से लंड ढक के पीछे मुड़ गया ताकि उसे लगे कि मैंने यह जानबूझ से नहीं निकाल लिया हे और वह चली गई मुझे कभी भी डर था कि वह उसके घर पर ना कह दे. फिर मैंने २ दिन के बाद हिम्मत करके फिर वह जब आयी तो मैंने लंड दिखाया.. फिर क्या था? मैं हर दिन उसको ऐसे ही मेरा लंड दिखाता था. एक दिन उसने कहा आपको शर्म नहीं आती ऐसे नंगे खड़े हो जाते हो? मैंने कहा नहीं आती.. और मैने कहा की तू मेरे सामने क्यों देखती हे. वह बोली के में नही देखती हु तुमरे सामने.  मैंने कहा झूठ मत बोल.. तू देखती है और चुपके से मेरे लंड को भी देखती हे. तो वह बोली ऐसा कुछ भी नहीं है वह शरमा कर चली गई.

फिर भी जब वह मेरे घर आती मैं उसको लंड दिखाता था. एक दिन मैं घर पर अकेला ही था. और वह आई तो मैं रुम में था मैं मेरे सारे कपड़े जानबुझ कर निकाल के बाहर आया मेरा लंड खम्बे की तरह तना हुआ था. लता ने तो उसकी आंखें भी बंद कर दी और वह पीछे मुड के खड़ी हो गई. और बोली आप ऐसा क्यों करते हो? मैंने कहा मैं तुझे चोदना चाहता हूं तू कहे तो.  वह बोली मुझे डर लगता है मैंने कहां कैसा डर? तो बोली किसी को पता चल गया तो और मेरी चूत में तो कभी मेरी उंगली भी नहीं जाती. और यह आपका इतना बड़ा लंड, कैसे होगा? मैंने कहा लड़की जब पहली बार जब सेक्स करती है तो थोड़ा दर्द होता है और बाद में उसे मजा आने लगता है. और वह मान गई मैं लता को रूम में ले गया उसने ड्रेस पहनी थी. मैंने कहा इसे उतार दो वह नहीं उतार रही थी. मैंने कहाउतार दो  कुछ नहीं होगा. तब भी वह डर रही थी फिर मैंने ही धीरे धीरे उसकी ड्रेस की टॉप उतार दी उसने अंदर ब्रा नहीं पहनी हुई थी.

loading...

मैंने पूछा तुम ब्रा नहीं पहनती उसने कहा उसने कभी भी ब्रा नहीं पहनी. लता क्या लग रही थी? छोटे छोटे बोबे में देखता ही रह गया. और उसे किस करने लगा. लता को तो किस करना भी नहीं आता था. उसके होठों को मेरे होठों में लेके कैसे किस करते हैं मैंने लता को सिखाया. वह डर के मारे कांप रही थी मैं लता के शरीर पर हाथ फेर रहा था. उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था. वह कह रही थी बस अब मुझे जाने दो. मैंने कहा कुछ नहीं होगा और धीरे धीरे उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम

loading...

फिर मैंने उसकी लेगिस को उतार दिया. लता ने पेंटी भी नहीं पहनी थी. क्या लता की चूत थी. फिर भी मैं देखता ही रह गया. अभी तक लता की चूत पर बाल भी आने नहीं शुरू हुए थे. क्या लग रही थी? मैंने उसकी चूत में उंगली डालने की कोशिश की लता चिल्ला पड़ी नहीं, मैं मर जाऊंगी. चूत को टच मत करो. फिर मैंने हाथ हटा दिया और उसको मैं नीचे लेट गया और उसको मेरे ऊपर ले लिया है. हम दोनों नंगे ही थे और मैंने अपना लंड उसके हाथ में दे दिया.

वह बोली यह कितना बड़ा है. यह तो मेरे हाथ में भी नही आ रहा है तो मेरी चूत में कैसे आएगा? मैंने उसे मुंह में लेने को कहा वो ना बोली. मैंने फिर उसके मुंह में डाल दिया बाद में लता को लेटा कर उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा. उसे मजा भी आ रहा था. और दर्द भी हो रहा था. लता के मुंह से आवाज आह ह्हहा ईई ऊऊ आह्ह औऊ ओह्ह्ह अह्ह्ह निकल रही थी. और उसे थोड़ा मजा आने लगा था. तो मैंने पूछा लंड डालू तो लता ने कहा दर्द होगा ना? मैंने कहा नहीं पहले थोड़ा होगा बाद तुमको बहोत मजा आ जाएगा और तुम मुझे बार बार यह सब करने को बोलोगी. तो उसने थोड़ी देर सोचा और फिर अपना सर हिला कर  हां कर दी. मैंने मेरे लंड पे  कंडोम चढ़ा दिया.

उसकी चूत पर लंड रखा और उसकी चूत पर सहलाने लगा. मैंने जान बूझ कर डाला नहीं. मुझे पता था की उसकी चूत में मेरा यह लंड जाएगा तो वह बेहोश हो जाएगी. जब मे लंड उसकी चूत पर सहला रहा था तब वह कह रही थी डालो अहः हहह अह्ह्ह ओह्ह्ह अह्ह्ह औउ ओह्ह्ह प्लीज़ डालो इसे मेरे अंदर मेरी चूत में कुछ कुछ होने लगा हे प्लीज़ जल्दी से डाल दो अब मुझे ज्यादा ना तडपाओ. प्लीज़ मेरे अंदर डाल दो तुम्हारा लंड. पर मैंने मेरा लंड अंदर चूत में डाला ही नहीं था. लता को मजा आ रहा था उसकी आंखे बंद हो रही थी और आह्ह औऊह उह्ह ओह्ह अहह ओह्ह येस्स आह्ह्ह येस्स अह्ह्ह्ह येस्स ओह्ह येस्स अह्ह्ह ओह्ह्ह येस्स्स्स आयी येस्स्स्स मुंह से आवाज निकल रही थी. फिर मैंने लंड को उसकी चूत से हटा दिया पर लता को खड़ी कर दी और पूछा कि मजा आया

तो उसने बोला हां बहुत मजा आया वह काफी थक चुकी थी और हम दोनों ने कपड़े पहन लिए. लता हंसते हुए चली गई. फिर मैंने मुठ मार के मेरा सारा पानी निकाल दिया. फिर मैने फिर मैने रात हो खाना खाया और में सोने की तयारी करने लगा. में मेरे बिस्तर पे लेट कर सोच रहा था की आज मैने लता के साथ खुछ नहीं किया और उसे बहोत मजा आया हे तो वह कल फिर से जरुर मुझे कहेगी के अब मुझे चोदो. और में भी यही  चाहता था की वह खुद कहे की मुझे चोदो क्योंकि तभी उसको असली मजा आएगा और वह पहली बार चुदने का दर्द भी सहन कर लेगी. फिर रोज की तरह अगले दिन लता फिर मेरे घर पर आई और आज उसके चेहरे पर मुझे एक अजीब रोनक दिखाई दे रही थी. और वह मुझे बोली चलो आज फिर करते हैं मुझे कल बहोत मजा आया था. मुझे पता था इसीलिए मैंने पहले दिन उसकी चूत फाड़े बिना ही उसको जाने दिया था. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम

फिर मैं उसे मेरे कमरे में मेरे हाथो में उठा के ले गया और वह मेरी गर्दन पर अपने हाथ लपेटे हुए मुझे देख रही थी और हलकी हलकी हस रही थी. मैने उसे अपने बिस्तर के पास खड़ा किया और उसके सारे कपड़े उतार दिए. फिर उसने मेरे एक एक करके मेरे सरे कपडे उतार दिए. मेरे कुछ कहे बगेर वह मेरा लंड मुंह में लेने लगी मेरा लंड खड़ा हो गया मैंने लता को बेड पर लेटा के बाहों में ले लीया. उसे मजा आने लगा था. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम  मैं उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा. बाद में मैंने अपना मुंह उसकी चूत पर लिया और चाटने लगा. क्या मजा आ रहा था लता आह्ह अह्ह्ह ओह्ह अह्ह्ह उम्म्म ओह्ह उम् ओह्ह अह्ह्ह ईई आवाज कर रही थी और कह रही थी मेरी चूत को फाड़ डालो. तुम्हारा लंड मेरी चूत में डालो… मुझे मजा आने लगा है. मैंने सोचा इससे अच्छा मौका नहीं आएगा लता की चूत को फाड़ने का. मैंने जरा सी भी देर किए बिना मेरा लंड उसकी चूत के ऊपर रख दिया और सहलाने लगा. लेता बोली डालो इसे. मेने धीरे धीरे से धक्का दिया तो लता चिल्लाई और और कहने लगी मर गई निकालो.. उसकी आंखों से आंसू आ गए. और चूत से खून निकल गया.

वह मुझे कहने लगी उसे दर्द हो रहा है. फिर मैंने उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा धीरे धीरे  उसे मजा आने लगा और रोना बंद कर दिया. और वह मुझे किस करने लगी और खुद ही लेट गई और बोली धीरे से डालना. फिर क्या था मैंने धीरे धीरे मेरा लंड डाला. वह बोली नो नो फिर भी मैंने डाल दिया अंदर बाहर करने लगा. मजा आ रहा था. मेरा पूरा लंड चूत में डाल दिया. और लता चिल्ला रही थी आह्ह आअई में मर गयी ऐसा कर रही थी.

उसे भी अब मजा आ रहा था. करीब 10 मिनट तक चुदाई के बाद मेरा पानी निकल गया. फिर में लता को मेरे ऊपर ले के किस करता रहा और उसकी चूत पर हाथ फेरता रहा. मैंने लता को पूछा कैसा लगा? तो लता बोली बहुत मजा आया अब तो तुम हर दिन मेरी चूत फाड़ना. जब भी मेरे घर पर कोई ना हो तो मैं लता की चुदाई करता हूं.  मैंने लता को कच्ची कली से फूल बना दिया.

कहानी शेयर करें :
loading...