चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

मैं पिज्जा खाते हुए उसके लंड को चूसने लगी, वो मेरी गांड में उंगली कर रहा था

loading...

मेरे मम्मी पप्पा बहार जा रहे थे कुछ दिनों के ले. ये मैंने अक्षत को बता दिया था. जिस दिन सुबह में मेरे मम्मी पप्पा गए अक्षत उनके जाने के आधे घंटे के बाद ही मेरे घर पर आ गया. मैं नाईट ड्रेस में थी घर पे. वो आया और जैसे ही मैंने गेट बंद किया अक्षत जैसे मेरे ऊपर टूट सा पड़ा. उसने मुझे बहुत सारे किस किये और मैं भी उसका फुल सपोर्ट कर रही थी. फिर मैंने उस से कहा की पुरे दी दिन हे हमारे पास इतना भी क्यूँ भाल रहे हो!

उसने कहा, पागल कर दिया हे तुमने मुझे, जब से तुमने बताया की तुम अकेली रहनेवाली हो घर पर दो दिन के लिए तब से लंड फनफना रहा था मेरा तो. लेकिन मैंने भी मुठ नहीं मारी ताकि जब तुमको चोदुं तभी सारी एक्साइटमेंट तुम्हारे सामने ही निकले. ये सुनते ही मैंने उसे धक्का दे कर दिवार के सहारे किया और जोर जोर से किस करने लगी उसको. उसका हाथ उठकर मेरे बूब्स पर आ गया. फिर उसने मुझे दिवार के सहारे खड़ा किया और जम कर किस करने लगा और मेरे बूब्स को दबाने लगा एकदम तेज तेज. फिर उसने मेरे नेक पर किस करना शरु कर दिया और हाथ कमर पे ले जा के मेरी टॉप में डालने लगा.

मैं भी उसके बालों में हाथ डाल के सहला रही थी. और मजे ले रही थी. फिर वो मुझे पागलों की तरह लिप्स पे किस करने लगा और बूब्स को मेरे टॉप के अन्दर से मसलने लगा. मैं भी उसके लंड को सहलाने लगी उसकी जींस के ऊपर से ही. मैं उसके कडक लंड को अपने हाथों में महसूस कर सकती थी. फिर उसने मुझे किस करते हुए अपना शर्ट खोला और मैं उसकी जींस के बटन खोलने लगी. और उसकी अंडी के साथ पूरी जींस को निचे कर दिया मैंने. अब उसका लंड मेरे सामने खुला था. मैं निचे बैठी और लंड को चूसने लगी, चाटने लगी. 5 मिनिट तक मैंने उसके लंड को चूसा, उसके अन्डो को चाटा और वो मोअन कर रहा था. और मेरा नाम लिए जा रहा था!

loading...

फिर उसने मुझे उठाया और बेडरूम में ले के चला गया. वहां उसने मुझे बिस्तर के ऊपर लिटा दिया. और वो मेरे ऊपर आया. और मेरी केप्री और पेंटी उसने निकाल दी. अब मैं सिर्फ टॉप में थी. वो मेरी चूत में अपनी उंगलियाँ फिर रहा था. फिर उसने मेरे पाँव की उँगलियों के ऊपर किस करना शरु किया. हम्म्म्म अह्ह्ह्ह मैं मोअन करने रही थी. और पुरे पैरों को किस करते हुए मेरी एक थाई को सहला रहा था और दूसरी थाई के ऊपर किस कर रहा था. मैं मदहोश होती जा रही थी और सिस्कारियां ले रही थी. फिर उसने मेरे पैर चौड़े कर दिए और मेरी इनर थाई के ऊपर किस और लिक करने लगा. आःह्ह अह्ह्ह्ह. फिर धीरे धीरे मेरी क्लीन शेव्ड चूत की तरफ बढ़ने लगा. फिर उसने मेरी चूत के ऊपर एक किस कर लिया.

loading...

फिर अक्षत मेरी चूत को चाटने लगा, अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह अम्म्मम्म क्या मजा आ रहा था. पुरे बदन में जैसे बिजली दौड़ रही थी मेरे. अक्षत जोर जोर से मेरी चूत को अपनी जबान से चोद रहा था और चूस रहा था. और मैं बस आह्ह्ह अहह हम्म्म्म उईई अह्ह्ह कर के मोअन कर रही थी. फिर मैंने अक्षत के माथे को अपनी बुर पर दबाया उर कहा. अक्षत प्लीज़ और जोर जोर से चाटो मेरी चूत को और इसे एकदम खा जाओ.फिर अक्षत ऊपर आ गया. मेरा टॉप ऊपर सरका के मेरे पेट पे नाभि के पास किस करने लगा अह्ह्ह टॉप को और ऊपर किया और उसने उसे उतार दिया. मैं पिंक कलर की ब्रा में थी. वो मेरे बूब्स को दबाने लगा ब्रा के ऊपर से ही. फिर वो मेरे गले के ऊपर किस करने लगा. इतना मजा आ रहा था जैसे की कभी आया ही नहीं था. मैं छटपटा रही थी और फिर मैं पलट के उलटी लेट गई उसके सामने.

अक्षत ने मेरी ब्रा का हुक खोल दिए और मेरे बालो को साइड में कर के पूरी पीठ के ऊपर किस करने लगा. और मेरी गांड को वो अपने हाथ से सहला रहा था और दबा रहा था. फिर वो मेरे ऊपर चढ़ गया और अपने लंड को मेरे गांड के क्लीवेज में फंसा के रगड़ने लगा. और फिर उसने आगे झुक के मेरी पीठ के ऊपर किस दे दी. मैं तो बस मोअन करते हुए एन्जॉय कर रही थी. फिर मैंने उस से कहा चोद दो मुझे अक्षत अब मेरे से रहा नहीं जा रहा हे अपने लोडे से चोदो मुझे.

उसने मुझे पलटाया और मेरे पैर चौड़े कर दिए और अपना लंड मेरी चूत पर सेट कर दिया और सहलाने लगा. मैं उस से कह रही थी चोद दो. पर वो मुझे परेशान कर रहा था. और तब तक वो मुझे तडपाता रहा जब जब मैंने उसे चुदने के लिए गिडगिडा के नहीं कहा. मैंने कहा, प्लीज़ अक्षत जल्दी से चोदो मुझे, चूत में डालो लंड अपना प्लीज़.अक्षत ने फिर एकदम से अपना पूरा के पूरा लंड मेरी चूत में डाल दिया, मेरी तो चीख निकल गई आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्, फिर वो मेरी चूत में धीरे धीरे से धक्के मारने लगा.

और मैं मोअन करने लगी अह्ह्ह अह्ह्ह्ह ओह अक्षत फक मी प्लीज़ अह्ह्ह आह्ह्ह चोदो मुहे अह्ह्ह्ह फ्क्फ़ फक फक मी, अह्ह्ह्हह! हर धक्के के ऊपर मेरी फक फक की आवाज और फिर वो अपनी स्पीड को और भी तेज कर गया. और खूब तेजी से मुझे चोदने लगा. आह्ह्ह अह्ह्ह्ह पच पच पच फक फ्क फक के साउंड कमरे में! और इसी उत्तेजनाक इ अन्दर अक्षत झड़ गया और मेरी चूत के अन्दर ही उसका सब माल निकल गया. हम दोनों की साँसे भरी हुई थी. हम बेड के ऊपर लेट गए. अक्षत मेरे बूब्स से खेलने लगा और खेलते खेलते ही वो सो गया. मैं भी उसके ऊपर सर रख के सो गई. दो घंटे के बाद हम दोनों की नींद खुली.

मैं और वो बाथरूम में एकसाथ चले गए. शावर के निचे खड़े हो गए. हम दोनों किस कर रहे थे और एक दुसरे की बॉडी को साफ़ कर रहे थे हाथ फेर फेर के. फिर अक्षत ने मुहे दूसरी तरफ घुमाया और पीछे पहले मेरी पीठ पर हाथ फेरने लगा. और फिर पीछे से उसने मेरे मुहं को पकड़ के उल्टा किया और मुझे किस करने लगा. और एक हाथ से वो मेरे चुचें मसलने लगा. और उसका एक हाथ मेरी चूत के ऊपर व्ही चला गया सहलाने के लिए. मैं तो फिर से अक्षत का लंड लेने के लिए रेडी हो चुकी थी. मैं मोअन कर रही थी और फिर मैंने भी अपना एक हाथ निचे कर के उसके सर पर रखा और किस करने लगी. और दुसरे हाथ को मैंने उसके लंड के ऊपर रख के उसे हिलाना चालू कर दिया.

फिर मैंने उसे कहा, अक्षत मुझे अपनी कुतिया बना के चोदो.

ये सुनते ही वो तो जैसे सातवें आसमान पर आ गया. उसने मुझे अपनी तरफ घुमाया और मुझे बहुत तेज किस करने लगा. अपने हाथ से उसने मेरी गांड को पकड़ा और उसे एकदम तेजी से दबाने लगा. और वो मुझे किस दे रहा था. मैं भी उसका पूरा साथ दे रही थी.मैंने अपना एक हाथ उसके गले में डाल दिया और किस कर रही थी. और एक पैर को ऊपर कर के मैंने घुटनों से उसके लंड को टच कर लिया. फिर उसने मुझे कहा बन जाओ कुतिया आज तुम्हे डौगी स्टाइल में चोदता हु मेरी रानी.

मैं तुरंत ही जमीन के ऊपर कुतिया बन गई और वो मेरे पीछे आ गया. मेरी गांड पकड़ी उसने और अपने लंड को मेरी चूत में घुसाने लगा. तब ही मैं उठ गई तो उसने कहा क्या हुआ? मैंने कहा जमीन के ऊपर घुटने रखे हे इसलिए उनकम्फ़र्टेबल लग रहा हे. फिर मैने एक तोवेल को जमीन के ऊपर रख के अपने लिए थोडा स्पोंजी सा बनाया और फिर मैंने उसके ऊपर अपने घुटने टिका के घोड़ी बन के कहा अब आ जाओ!

अक्षत फिर से मेरे पीछे आ खड़ा हुआ और उसने अपने लंड को मेरी चूत में डाला. इस बार लंड जब अन्दर जा रहा था तो एकदम अलग सा लग रहा था. ऐसी फिलिंग मिशनरी स्टाइल में नहीं हुई थी. अक्षत ने एक और धक्का लगाया और उसका पूरा लंड अब मेरी चूत में था. मैं अन्दर तक उसके लंड को फिल कर रही थी.फिर उसने धक्के देना चालू कर दिया. मुझे बहुत मस्त लग रहा था. उसका लंड मुझे अपनी चूत की दीवारों के ऊपर महसूस हो रहा था. वो पहले तो धीरे धक्के मार रहा था और मुझे स्पंक कर रहा था गांड पर. और मैं हर धक्के के ऊपर मोअन कर रही थी, अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह्ह याह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्ह्ह ओह्ह्ह या!

फिर अक्षत ने अपने चोदने की स्पीड को और भी बढ़ा दिया. मैं अब उसके साथ ही तेजी तेजी से मोअन करने लगी थी. चोद दो मुझे अक्षत अह्ह्ह अह्ह्ह्ह ओह याह, फक मी! कुतिया बना दो मुझे अपनी अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह! अक्षत ने कहा, हां तू मेरी कुतिया हे शेली डार्लिंग ये ले, ये ले मेरा लोडा. ऐसे कह के वो मुझे कस कस के ठोकने लगा.मैं भी उसके मुहं से ये सब सुन के और उसके साथ वो जो गन्दी गालियाँ दे के मुझे रंडी छिनाल कह रहा था वो सब सुन के एक्साइट होती गई. मैं भी अपनी गांड को जोर जोर से हिला के उसका लंड लेने लगी अपनी चूत के अंदर.

फिर अक्षत का वीर्य मेरी चूत के अन्दर ही निकल गया. मैं भी उसके लंड के ऊपर अपनी चूत का पानी दो बार छोड़ चुकी थी. लंड का चिपचिपा पानी मुझे और होर्नी करने लगा था. फिर हम खड़े हुए और एक दुसरे को किस करने लगे. फिर अक्षत ने मुझे साबुन लगा के नहलाया और मैंने उसे. और फिर हम नहाने के बाद बहार आ गए बाथरूम से.

मैं कपडे पहन रही थी वो बोला, अरे मेरी जान कपडे क्यूँ पहनती हो. मैंने कहा, भूख लगी हे.

वो बोला, डोमिनोस में कॉल कर के मंगवा लेता हूँ. फिर उसने मेरा फेवरेट पिज्जा मंगवाया और ड्रिंक्स भी. ऑर्डर देने लड़का आया उसे अक्षत ने तोवेल लपेट के पैसे दिए. फिर उसने घर में आ के टोवल निकाला. उसने पिजा के पिस अपने लंड पर रख के कहा ये लो खाओ मेरी जान. मैं पिज्जा खाते हुए उसके लंड को चूसने लगी थी. फिर उसने पिज्जा के अन्दर एक छेद किया और लंड को बहार निकाला उसमे से. और वो बोला, ये लो अमरीकन पोर्न में होता हे वैसे वाला पिज्जा. मैं हंसते हुए उसके लंड को सक कर रही थी. और एक एक बाईट पिज्जा भी खा रही थी. फिर हमने ड्रिंक कर लिया.

खाने के बाद अक्षत ने कहा, शैली अब हम एनाल करेंगे!

मैं भी एकदम से रोमांचित हो गई एनाल सेक्स का सुन के. अक्षत ने मुझे डाइनिंग टेबल के ऊपर उल्टा कर दिया. पिज्जा के साथ जो केचप का पाउच आया था उसमे से एक बचा था. उसने उसे खोला और मेरी गांड के ऊपर केचप लगा दिया उसने. फिर ऊँगली से उसे पूरा लपेड दिया उसे. फिर वो अपनी जबान से केचप को चाटने लगा. साथ में वो मेरी गांड को चाट रहा था. मैं जोर जोर से मोअन कर रही थी. और मैंने पीछे हाथ कर के उसके माथे को जोर से गांड में दबाया. वो सब केचप खा गया और मेरी गांड में जबान घुसेडने की ट्राय करने लगा. लेकिन मेरा एसहोल बड़ा टाईट था.अक्षत उठा और बोला, खाने का तेल कहा हे. मैंने उसे दिखाया. वो तेल एक छोटी कटोरी में ले के आया. और चलते चलते उसने अपने लंड के ऊपर ही तेल लगा दिया. फिर उसने मुझे गांड खोल के लिटाया और मेरी गांड पर उसने ढेर सारा तेल लपेड़ा. फिर अपने लंड को उसने गांड के होल पर रख के धक्का मारा. तेल की चिकनाहट की वजह से उसका लंड गांड में घुसा लेकिन सिर्फ एक इंच जितना. उतने में तो मेरे मुहं से आह्ह्ह अह्ह्ह ओह ओह निकल पड़ा. मुझे एकदम से हॉट हॉट लग रहा था एसहोल के अन्दर. और अक्षत ने मेरे बूब्स पकड के मसले. और फिर उसने एक धक्का दिया और आधा लंड गांड में पेला. मैं बेहाल सी हो गई थी क्यूंकि गांड में बहुत दर्द हो रहा था मेरी.

अक्षत ने कुछ देर लंड ऐसे ही रहने दिया और मुझे टच कर के कंधे के ऊपर किस कर के और बूब्स मसल के गरम किया. फिर मैं गरम हुई तो उसने एक धक्का मारा और पौने से ज्यादा लंड गांड में डाल दिया. मैं बेहाल सी हुई थी. अक्षत अब मेरी गांड मारने लगा जोर जोर से. उसका लंड आराम से अंदर घुस के बहार निकल रहा था तेल की चिकनाहट की वजह से. और वो आह्ह्ह अह्ह्ह्ह ओह ओह कर के चोद रहा था मेरी गांड को.10 मिनिट की मस्त एनाल सेक्स के बाद अक्षत ने अपने लंड का पानी मेरी गांड में ही छोड़ा. मैं थक गई थी तो डाइनिंग टेबल से उठ नहीं पाई. मेरी गांड और घुटने दोनों में दर्द हो रहा था. अक्षत उठा और वो सोफे पर बैठ गया! दोस्तों मेरी ऐसी ही चुदाई की अक्षत ने पुरे पौने दो दिन तक. खाना वो बहार से मंगवाता था और फिर जो भी टाइम मिलता था उसमे मेरी चूत और गांड मारता था. मम्मी पप्पा के आने के ठीक दो घंटे पहले वो मेरे घर से चला गया.

loading...