चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

माँ को पेशाब करते देखा और चुदाई का प्लान बनाया Part 2

loading...

माँ को पेशाब करते देखा और चुदाई का प्लान बनाया Part 1

loading...

माँ को पेशाब करते देखा और चुदाई का प्लान बनाया कहानी के दूसरे पार्ट में आप सभी का स्वागत है।
माँ मेरे लंड में तेल लगा कर जोर जोर से मालिश कर रही थी मेरा लंड पूरी तरह जोश में था और लंड की मालिश करते करते माँ भी पूरी तरह जोश में आ चुकी थी, माँ बोली बेटा तेरे लंड का दर्द ठीक करने का एक ही तरीका है तुझे अभी किसी को चोदना पड़ेगा और तुम मुझे चोद सकते हो। मैं समझ चूका था माँ से अब कण्ट्रोल नहीं हो रहा है इतने में माँ मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी मुझे बहोत मजा आ रहा था मेरा प्लान सफल हो चूका था अब सिर्फ थोड़ा समय ही बचा था जब माँ खुद मुझ से चुदवाने वाली थी।

मैंने माँ से पूछा माँ ये तुम क्या कर रही हो ? माँ बोली मेरी जान ऐसा करने से तेरा दर्द पूरा ठीक हो जायेगा और माँ लंड को पूरा मुँह के अंदर ले कर चूस रही थी माँ उठ कर बोली बेटा आज मैं तुझे कुछ दिखाना चाहती हु और उसने अपना नाईट सूट उतर दिया वो सिर्फ ब्रा पेंटी में थी अब वो मेरे पास आ कर मुझ से लिपट गयी और मुझे चूमने लगी मैं भी माँ के बूब्स को दबाने लगा माँ पुरे जोश में आ चुकी थी और बहुत कामुक लग रही थी, माँ मेरा टी शर्ट उतर दी और अब मैं पूरी तरह से नंगा था माँ बोली बेटा अपनी माँ को नंगा कर दे खुद ही देख ले औरत का शरीर कैसा होता है और आज मुझे चोद के मेरी प्यास बुझा दे। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

मैं बोला माँ मुझे चोदना नहीं आता माँ ने कहा मेरे लाल आज मैं तुझे सब सीखा दूंगी वैसे भी तू जवान हो गया है और हम दोनों को एक दूसरे की जरुरत पूरा करना है। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है। माँ खुद ही अपने ब्रा और पेंटी उतर कर फ़ेंक दी और मेरे मुँह के ऊपर आ कर बैठ गयी और बोली जान मेरी चुत को चाट कर साफ़ कर दो और मैं माँ की चूत चाटने लगा माँ के मुँह से सीईई ईईई… उम्म्ह… अहह… हय… याह… सस्स्स स्स्स्सरर आह आउच की सिसकारियां आने लगी माँ की चूत का स्वाद बहोत ही अच्छा था नमकीन पानी और चूत की खुशबू से मैं पागल हुआ जा रहा था।

फिर माँ ने मुझे 69 पोजीशन करना बताया और हम दोनों वैसे ही हो गए वो मेरा लंड दांत से काट काट कर चूस रही थी मैं भी माँ की चूत को दांत से काट दिया और वो चिल्ला उठी और बोली माधरचोद धीरे काट माँ के मुँह से गाली सुन कर मैं और जोश में आ गया माँ मुझे बोली जानेमन लेट जाओ अब मैं तुमको चोदना बताती हु और माँ मेरे ऊपर आ कर लंड के ऊपर चूत लगा दी और एक ही बार में पूरा लंड चूत में ले कर उछलने लगी माँ के बूब्स हवा में उछाल रहे थे और वो मजे ले कर मुझे चोद रही थी और सीईई ईईई… उम्म्ह… अहह… हय… याह… सस्स्स स्स्स्सरर आह की आवाज कर रही थी चुदाई से पूरे कमरे में फच फच की आवाज़ गूँजने लगी। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

माँ बोली साला माधरचोद चल उठ और मुझे पीछे से चोद और माँ घोड़ी बन गयी अभी मैं पीछे से माँ की चूत मेअपना लौड़ा पेल के चोदने लगा और उसकी गांड को हाथ से जोरो से मसलने लगा उसकी गोरी गांड में हाथ मार मार के लाल कर दिया। माँ सिसकारियां भर के चुदी जा रही थी तभी मेरे लंड से गरम पानी का धार निकला और माँ की चूत में भर गया और मैं बेड पर लेट गया।

माँ मुझ से आ कर लिपट गयी और बोली जान आज तुमने मुझे पुरे ७ महीने बाद चुदाई का मजा दिया है, फिर मैं माँ को बताया मुझे लंड में कोई दर्द नहीं है और मैंने उसको चोदने के लिए ये प्लान बनाया था। माँ बोली बेटा मुझे तो पहले ही सक हो गया था तू जान बुझ कर ये सब कर रहा है इसलिए मैं भी अपनी चूत की खुजली मिटाने के लिए तेरे नाटक में साथ देने लगी।
इसके बाद रात में 3 बार और हमने सेक्स किया और जब तक पापा नहीं आये मैं उसको रोज चोदने लगा, अब मेरी माँ मेरी रंडी बन चुकी थी मैं कभी भी उसको पीछे से पकड़ के उसके बूब्स और गांड दबा देता था और जब पापा घर में नहीं होते तो माँ नंगी ही घर में घूमती और घर का काम करती।
DMCA.com Protection Status

कहानी शेयर करें :
loading...