चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

नौकरानी को ब्लू फिल्म दिखाकर चोदा

मेरा नाम आशीष है और में पहली बार अपनी स्टोरी इस साईट पर लिख रहा हूँ.. अगर इसमें मुझसे कुछ ग़लतियां हो तो मुझे माफ़ करना। दोस्तों में रायपुर का रहने वाला हूँ और मेरे घर में हम सिर्फ़ 4 लोग रहते है। में मेरी मम्मी, पापा और बहन। चलिए अब में अपनी स्टोरी की शुरुआत करता हूँ।

यह बहुत समय पहले की बात है.. उस समय हमारे घर में एक नौकरानी काम करती थी.. जिसका नाम रजनी था और उसकी उम्र 32 साल की थी और वो दिखने में एकदम कमसीन, सेक्सी जवान थी। दोस्तों उसको देखते ही मेरा लंड एकदम से खड़ा हो जाता था.. उसका फिगर 35-30-35 का था। वो दिखने में सुंदर गोरी और उसके बाल बहुत लंबे थे.. वो बहुत ही कामुक लगती थी और मेरा मन तो हमेशा करता था कि उसे अपनी बाहों में दबोच लूँ। फिर जब में हाल में बैठकर टीवी देखता तो वो वहाँ पर झाड़ू लगाती रहती और थोड़ा नीचे झुकने पर उसके बड़े बड़े बूब्स साफ साफ दिखाई देते थे.. क्योंकि वो ब्रा नहीं पहनती थी। फिर उसके बूब्स देखकर मेरा लंड एकदम तनकर खड़ा हो जाता और मेरे अंदर करंट सा लगता था और मेरा लंड टाईट हो जाता था। मुझे बस वो काम की देवी लगने लगती.. लेकिन में कुछ नहीं कर पाता था।

एक दिन की बात है.. जब वो कपड़े धो रही थी तब में नहा रहा था और वो हमारे बाथरूम के पास ही कपड़े धोती थी। तो मैंने उस दिन जानबूझ कर बाथरूम का दरवाजा खुला छोड़ दिया और बाथरूम में खड़े होकर अपना लंड निकाल कर हिलाने लगा.. लेकिन मुझे थोड़ा थोड़ा डर भी लग रहा था कि वो कहीं मेरी मम्मी को ना बुला ले.. लेकिन उसने ऐसा कुछ भी नहीं किया। फिर उसने मुझे दरवाजा बंद करने को कहा.. तो मैंने बोला कि बाथरूम की लाईट फ्यूज़ है और में अंधेरे में नहीं नहा सकता। तो उसने कहा कि जो तू कर रहा है क्या में तेरी मम्मी को बताऊँ? तो में एकदम से डर गया और चुपचाप नहाने लगा और फिर मैंने दोबारा ऐसा नहीं किया.. क्योंकि कहीं वो मम्मी को ना बता दे.. लेकिन कुछ दिनों के बाद मैंने फिर से हिम्मत की और बाथरूम का दरवाजा खोलकर मुठ मारने लगा। तो उसने कुछ भी नहीं कहा.. लेकिन वो तिरछी नजरों से मेरे खड़े लंड को देख रही थी और मुस्कुरा रही थी। फिर मुझे समझ में आ गया कि इसे यह सब देखना अच्छा लग रहा है और अगले कुछ दिनों तक ऐसा चलता रहा। वो अब मुझे बहुत ध्यान से देखती और कहती कि तू एकदम पागल है और में कुछ नहीं कहता और चुप ही रहता था।

फिर एक दिन मेरे घर पर कोई भी नहीं था और मेरे सभी घर वाले बाहर गये थे और में अपने स्कूल जाने के कारण घर पर ही रुका था.. तब मैंने उस दिन सोच ही लिया था कि आज में इसको चोदकर ही रहूँगा और मुझे इससे अच्छा मौका कभी नहीं मिलेगा। में उस दिन स्कूल नहीं गया और घर पर ही रुककर उसके आने का इंतजार करने लगा.. मैंने ब्लू फिल्म की एक डीवीडी ला रखी थी। फिर जब वो आई तो उसने मुझसे पूछा कि सभी लोग कहाँ गये है? तो मैंने उसे बताया कि वो सभी लोग बाहर गये है.. वो कहने लगी कि क्यों तू नहीं गया? तो मैंने कहा कि में तुम्हारे लिए रुका हूँ। तो उसने तुरंत कहा कि क्या मतलब? मैंने बोला कि कुछ नहीं बस मुझे पढ़ाई करनी है.. कुछ दिनों में मेरे पेपर शुरू होने वाले है और इतनी बात करके वो अपना काम करने चले गयी और उसके जाने के बाद मैंने हिम्मत करके ब्लू फिल्म शुरू कर दी और में वहाँ से चला गया।

वो झाड़ू लगाने हॉल में आई तो उसने देखा कि टीवी पर ब्लू फिल्म चल रही है और में भी वहाँ पर नहीं हूँ.. तो वो टीवी पर ब्लूफिल्म को बड़े गौर से देखने लगी और वो मजे ले रही थी (उस समय उसमे जो लड़का था वो उस लड़की को नीचे जमीन पर पटककर चोद रहा था और वो लड़की जोर जोर से सिसकियाँ ले रही थी) और में दरवाजे के पीछे से यह सब देख रहा था.. मैंने सोचा कि अब चला जाए यही सही मौका है और जैसे ही में हॉल में गया तो उसने मुझे देखा और डर गयी और बोलने लगी कि टीवी में यह सब क्या चल रहा है? तो मैंने कहा कि क्यों तुमको दिखाई नहीं दे रहा है? फिर वो बोलने लगी कि मुझे यह सब बिल्कुल पसंद नहीं.. में तुम्हारी मम्मी को बता दूँगी। तो में थोड़ा घबराया.. लेकिन में हिम्मत करके बोला कि क्या बताएगी यह जो हो रहा वो? तो उसने कहा कि हाँ। तो मैंने कहा कि में तुमको उस दूसरे कमरे में से देख रहा था और तुम तो बड़े गौर से ब्लू फिल्म देख रही थी। तो वो मुझसे नज़रे चुराने लगी.. तो मैंने कहा कि तुम बिल्कुल भी डरो मत में यह सब किसी को नहीं कहूँगा।

तो वो बोली कि तुम मुझसे चाहते क्या हो? तो मुझे लगा कि आज तो मेरा काम बन गया और जो मैंने इतने दिनों से सोचा था वो पूरा हो गया। फिर मैंने उससे कहा कि तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो.. वो कहने लगी कि तभी क्या तुम नहाते वक़्त मुझे अपना लंड दिखाकर मुठ मारते थे? तो मैंने बोला कि हाँ। फिर वो कहने लगी कि चलो आज साथ में बैठकर ब्लू फिल्म देखते है और उसके ऐसा बोलते ही मेरी लाटरी लग गयी और फिर हम एक साथ बैठकर ब्लू फिल्म देखने लगे। फिर थोड़ी देर बाद उसने कहा कि वो जो फिल्म में लड़की है देखो उसके बूब्स कितने बड़े है? तो में उससे कहने लगा कि क्या तुम्हारे भी उतने ही बड़े कर दूँ? तो वो हंसने लगी और अपने बूब्स की तरफ इशारा करके बोली कि यह तो उस लड़की से थोड़े ही छोटे है। तो उसके ऐसा बोलते ही दोस्तों मेरे शरीर में करंट सा लगा और मेरा लंड तनकर खड़ा हो गया और मुझे ऐसा लग रहा था कि वो मेरी पेंट फाड़कर बाहर ही आ ज़ायगा।

फिर मैंने कहा कि क्या में तुम्हारे बूब्स छूकर देख लूँ? तो वो मना करने लगी। मैंने कहा कि मुझसे एसी भी क्या शरम? फिर मैंने उसके दोनों बूब्स पकड़ लिए.. वो कहने लगी कि क्यों तुम यही चाहते थे ना? तो मैंने मन में बोला कि यही मौका है अपने काम पर शुरू हो जा और मैंने कहा कि हाँ मेरी रानी और में उसके बूब्स को दबाने लगा वो सिसकियाँ निकालने लगी.. अहह उफफ धीरे दबाओ दर्द हो रहा है। फिर मैंने और ज़ोर ज़ोर से दबाया तो उसके मुहं से चीख निकल गयी आहह धीरे मेरे राजा यह सब तेरा ही तो है थोड़ा आराम से कर। फिर मैंने उसके ब्लाउज के बटन खोल दिए और पूरा ब्लाउज उतारकर दूर हटा दिया और उसका एक तरफ का बूब्स पीने लगा। दोस्तों उसके बूब्स इतने बड़े थे कि मेरे एक हाथ में नहीं आ रहे थे.. लेकिन मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और वो भी मस्ती में अहह उउफफ्फ़ की आवाजें निकाल रही थी। उसके निप्पल बहुत बड़े, भूरे थे और मुझे काटने में बहुत मज़ा आ रहा था और उसे भी। फिर में जैसे ही उसके निप्पल काटता वो चिल्लाती कि मत काटो.. तो में और काटता।

अब वो बहुत गरम हो गई थी और वो मेरे लंड को बाहर निकाल रही थी। फिर मैंने अपनी पेंट को उतार दिया.. वैसे ही मेरा लंड आज़ाद हो गया और वो उसे हाथ में पकड़ कर हिलाने लगी और बोलने लगी कि वाह तेरा लंड कितना मोटा है? मेरे लंड की साईज़ 5 इंच, 2 इंच मोटा है.. वो मज़े से लंड हिलाने लगी.. तो मैंने उससे अपना लंड मुहं में लेने को कहा तो पहले उसने मना किया.. लेकिन जब मेरा लंड एकदम टाईट हो गया तो उससे रहा नहीं गया और वो मेरे लंड को मुहं में लेकर ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी। क्या बताऊँ यारो उसने जैसे ही लंड चूसा था मुझे कितना मजा आ रहा था.. आज तक मेरा लंड वैसे किसी और ने नहीं चूसा। फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसकी चूत में उंगली डाली उसकी चूत गीली हो गई थी और मेरे उंगली डालते ही वो सिसकियाँ लेने लगी उूऊँहह आआहह और थोड़ी देर बाद वो कहने लगी कि चोद मुझे अब में और नहीं रुक सकती। तो उसके इतना बोलते ही में उसके ऊपर लेट गया और उसके दोनों पैरों को अपनी कमर पर रखकर लंड घुसाने लगा। फिर उसने अपने हाथों से मेरे लंड को अपनी चूत पर सेट किया और कहने लगी कि घुसा दे कमीने जल्दी से घुसा.. अब बर्दाश्त नहीं हो रहा। तो मैंने एक झटका मारा और मेरा लंड आधा अंदर चला गया और लंड घुसते ही वो चिल्लाने लगी.. हाए कितना मोटा है तेरा लंड.. मेरी चूत फट ही जाएगी।

तो मेरे दूसरा झटका मारते ही मेरा पूरा लंड उसकी चूत फाड़कर अंदर घुस गया और वो दर्द से तड़पने लगी और जोर जोर से चिल्लाने लगी.. आअहह निकाल बाहर मुझे बहुत दर्द हो रहा है.. लेकिन में उसके ऊपर लेटा रहा और में उसके होंठो पर किस करने लगा। वो चिल्ला रही थी आहह उूउउफ़फ्फ़ दर्द हो रहा है.. उउम्म्म्मह उफफ्फ़ माँ मरी। फिर वो थोड़ी देर बाद जब ठीक हुई और मैंने झटके मारना शुरू किया तो उसे भी मज़ा आने लगा.. वो कहने लगी कि चोद मुझे.. ऐसा मोटा लंड लेकर मुझे मजा आ गया.. चोद और चोद हरामी.. साले फाड़ दे मेरी चूत। फिर में ज़ोर ज़ोर से झटके मारने लगा और उससे बोलता कि हाँ मेरी रंडी तुझे तो आज में बहुत चोदूंगा और थोड़ी देर बाद हम दोनों का पानी निकल गया और मैंने अपना सारा पानी उसकी चूत में ही निकाल दिया ।।

कहानी शेयर करें :