चेतावनी : इस वेब साइट पर सभी कहानियां पाठको द्वारा भेजी गयी है। कहानियां सिर्फ आप के मनोरंजन के लिए है, कहानियां काल्पनिक हो सकती है। कहानियां पढ़ कर इसे वास्तविक जीवन में आजमाने की कोशिस ना करें। सेक्स हमेशा आपसी सहमति से करें।

तलाकशुदा बहन की प्यासी चूत के दर्शन हुए

loading...

sexy stories बात उन दिनों की है जब मैं अपनी बी टेक की पढाई करता था. पेपर खत्म होने के बाद मैं होलीडे में अपने घर आया हुआ था. मेरी बहन की शादी हो चुकी थी और उसके पति ने उसे तलाक दे दिया था इसलिए वो घर पर ही थी पिछले 3 साल से. और उसने अपने लिए एक जॉब भी देख लिया था.
उसने मुझे कहा की मेरा फोन ख़राब हो गया है ठीक करवा दे. मैंने फोन की सेटिंग में जाकर फोन को ठीक करने की कोशिश की. मैं छत पर ये सब कर रहा था. तब मैंने फोन की गेलरी ऑप्शन को खोला. उसके अंदर एक सेक्सी वीडियो था जिसमे एक आधेड उम्र की इंडियन लेडी अपने बूब्स और चूत को ऊँगली से हिला के बदन की आग को शांत कर रही थी.
ये वीडियो देख के मैं एकदम शॉक हो गया. और बिना कुछ कहे उसका फोन वापस कर दिया. फिर उस रात वीडियो और बहन के बारे में सोचता रहा. और थोड़ी देर बाद बाथरुम में जाकर मुठ मार ली. और फिर सो गया. फिर जब वो नहाने जाती या फ़ोन से दूर होती तो मैं चुपके से उसका फोन खोल के देखता उसकी ब्राउजिंग हिस्ट्री को. और उसके व्हाटसएप्प को भी. वो गंदे वीडियो डाउनलोड करती थी और एक फ्रेंड को भेजती थी. मेरा तो लंड ही खड़ा हो गया बहन की कलेक्शन को देख के जो व्हाटसएप्प वाले फोल्डर में थी. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम 

फिर मेरे होलीडे खत्म हुए कुछ दिनों में और मैं हॉस्टल चला गया. जब उसके बाद की होलीडे में वापस घर आया तो देखा की बहन की गांड और उसके बूब्स और बड़े हो गए थे पहले से. और वो अब और भी सेक्सी लग रही थी. मैंने उसकी गांड देख कर लंड का कंट्रोल खो दिया था जैसे. मेरे मन में बहन को चोदने के ख्याल आने लगे थे. फिर एक दिन ऊपर वाले कमरे में जाके मैं सो गया जहाँ पर वो सोती थी. और वो भी आ के सो गई. रात को मेरी नींद तब खुली जब मेरे को पिशाब लगी. मैंने देखा तो बहन के बदन के ऊपर से रजाई हटी हुई थी. और उसकी गोरी जांघ दिखाई दे रही थी. फिर धीरे से मैंने रजाई को और ऊपर किया तो देखा की उसकी ब्लेक कलर की पेंटी थी. और वो उलटी लेटी हुई थी इसलिए उसकी बड़ी गोल गांड भी दिख रही थी. और उसकी गांड को देख कर मेरा मन उसे टच करने को हो गया. मैं कुछ देर तक गांड को देखता रहा और फिर बाथरूम में जा के लंड को हिला के वापस सो गया.
2 -3 दिन ऐसे ही चलता रहा. फिर एक दिन उसकी तबियत खराब थी तो मैं उसे डॉक्टर के पास ले के गया. डॉक्टर ने उसे निंद की खोली लिख दी थी. ताकि उसे नींद पूरी तरह से आए. आज मौका देख के मैं बहन के साथ उसकी रजाई में घुस गया.
मैंने अपने मुहं को रजाई में घुसा लिया था और मैं उसके चूतड के पास में ही था. बहन की गांड के आगे मैंने हलके से नाक लगा के सूंघा तो पसीने की स्मेल आ रही थी. लेकिन वो सूंघ के मेरे को ठरक चढ़ रही थी. मेरा लंड एकदम कडक हो गया था और वो कांपने लगा था. मेरे को डर भी लग रहा था की कहीं नींद की गोली का असर ख़त्म हुआ और वो उठ गई तो. लेकिन डर के आगे चूत थी मेरी बहन की जिसे सूंघने के लिए मैं तड़प रहा था. गांड के पास से अपनी नाक को हटा के मैंने रजाई हटाई. और फिर दुसरे पासे पर चला गया. मेरी बहन की जांघे एकदम मोटी है. मैंने जांघ के ऊपर हाथ रख दिया और सहलाने लगा. और फिर उसकी चूत के ऊपर हाथ रख दिया. उसकी झांट मेरे हाथ में महसूस हो रही थी. मैंने हौले से ऊँगली को चूत के होल पर रख दी. वो एकदम गरम थी. मैंने ऊँगली को ऐसे ही बिना हिलाए रख दी. और फिर एक मिनिट के बाद मैं ऊँगली को होल के ऊपर घिसने लगा. बहन की चूत पानी छोड़ने लगी थी अब तो!
मेरा लंड एकदम मोटा हो गया था. डर भी था जहन के अंदर लेकिन सेक्स का नशा खूब चढ़ा हुआ था. मेरे मन में ये था की रोज ऐसे ही बिना कुछ किये मुठ मारता हूँ आज बहन नींद की गोली खा के सोई है तो थोडा एन्जॉय कर लेता हूँ उसके साथ में. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम 
और मैं उसके चूत के होल को हिलाने लगा. बहन की आँखे बंद ही थी तब. और तभी अचानक मेरे लंड पर उसकी मुठ्ठी कस गई! मैं एकदम से घबरा गया की क्या वो जाग रही थी. उसने अपनी आँखे खोली तो मैं एकदम से डर गया. लेकिन वो स्माइल कर रही थी और उसने मेरे को कहा, रोज रात को दूर दूर से चला जाता था क्या बात है आज तो तेरी हिम्मत एकदम से बढ़ गई!
मैंने हकलाते हुए स्वर में कहा, तुम्म्मने…. गोली…नन्ही खाई थी?
वो बोली नहीं मैं गोली खाने के पहले ही सो गई थी इसलिए मौका नहीं मिला खाने का. लेकिन अच्छा हुआ की गोली नहीं खाई वरना आज ये मौका नहीं मिलता!
फिर उसने मेरी नाइट पेंट के ऊपर से ही मेरी अंदर हाथ डाल के लंड को पकड़ा और बोली, हॉस्टल जाने के बाद बहुत हिलाता है क्या, काफी तगड़ा हो गया है तेरा कोक तो!
मैने कहा, तुम्हारे आगे पीछे के सेक्सी अंग भी तो एकदम बढ़ गए है.
वो बोली, मैं तो सेक्स की आग में कब से जल रही हूँ!

मैंने कहा, हाँ वो तो तुम्हारे गंदे वीडियो देख के मैं समझ गया था!
बहन ने कहा, चल फिर आज अपनी बहन को शांत कर दे, मेरे को जल्दी से दिखा अपना लंड!
बहन के मुहं से लंड सुन के मेरा पसीना छुट गया. मैंने रजाई खोल दी, ठंडी का मौसम था लेकिन हम दोनों के ऊपर सेक्स की गर्मी खूब चढ़ी हुई थी. बहन ने कहा: जा पहले दरवाजे को स्टॉपर तो लगा दे. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम 
मैंने जा के स्टॉपर लगाईं और जब वापस आया तो बहन बेड के किनारे बैठी हुई थी. उसने मेरे आते ही मुझे खिंच के मेरी नाईट पेंट को खिंचा निचे. वो इलास्टिक वाली पेंट निचे हो गई. अंदर मैंने अंडरवियर नहीं पहनी थी इसलिए मेरा लंड एक झटके से खिंच के उसके सामने आ गया. मेरी बहन ने जल्दी से लंड को अपने मुहं में ले लिया और उसे चूसने लगी! वाह्ह्ह्हह क्या मजे से उसने लंड को पुरा के पूरा मुहं में ले लिया था! मैं एकदम से हक्काबक्का सा रह गया की वो इतनी मस्त कोक सकर थी!
मेरे को तो शर्दी में भी पसीने छुट रहे थे उसके ऐसे लंड चूसने से. फिर मैंने अपने हाथ से उसके दोनों बूब्स को दबाये. बहन सिहर रही थी और मेरे को कहने लगी: चलो जल्दी से मेरी चूत को चाट दो थोडा.
मैंने उसके कपडे खोल दिए और हम दोनों 69 पोजीशन में आ गए. वो मेरे लौड़े को एक हाथ से निचे से पकड के आधे से ऊपर लंड को जोर जोर से सक कर रही थी और मैं उसकी चूत को चाट रहा था. उसकी झांट के बाल टूट टूट के मेरे मुहं में आ रहे थे लेकिन चूत के अंदर से जो खुसबू आ रही थी उसकी वजह से चूसने में अलग ही मज़ा आ रहा था. फिर मैंने एक हाथ से उसकी चूत को खोला और चूत के दाने को लिक करने लगा. इस एक्शन से तो मेरी बहन एकदम पागल ही हो गई. और वो जोर जोर से सिसकियाँ के बोली अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्ह बंटी, व्हह्ह्ह!

loading...

उस से रहा भी नहीं जा रहा था. उसने मेरे को बोला, कम ओन बंटी, चल अब डाल दे मेरे अंदर अपने लंड को!
और वो अपनी मोटी जांघो को खोल के पलंग में लेट गई. और एक हाथ से वो चूत को खोल के उसे ऊँगली से प्यार कर रही थी. बड़ी सेक्सी लग रही थी उस वक्त वो!
मैं उसकी दोनों जांघो के बिच में बैठ गया. उसने अपने हाथ से लंड को पकड़ा और सही एंगल से अपने बुर पर लगा दिया. मेरे एक झटके में आधा लंड अंदर गया. और मैंने बहन को अपने गले से लगा लिया. वो बोली, पुश कर!
मैंने और एक पुश किया और लंड अन्डो तक उसकी चूत में घुस गया. वो अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह उईईइ अह्ह्ह्हह यस्स की आवाजें निकालने लगी. उसे मेरा बड़ा लंड ले के दर्द तो हुआ था. लेकिन बुर चुदाई की ख़ुशी उस दर्द से काफी अधिक थी. वो मेरे को बूब्स चूसने को बोली. और मैंने अपनी गांड को आगे पीछे कर के उसकी चूत को चोद रहा था और उसके बोबे मुहं में ले के चूस रहा था. मेरी बहन ने मेरे कंधे को चूमा और बोली, लगा झटके!
बस इतना सुनते ही मैं जोर जोर से चुदाई करने लगा, उसकी बुर से जैसे झाग निकल रहा था जिसकी वजह से मेरा लंड एकदम तेज तेज अंदर बहार हो रहा था. मेरी बहन मेरे गले से चिपकी हुई चुदाई के मजे लुट रही थी. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम 
कुछ देर मैं मिशनरी स्टाइल में फकिंग की. और फिर अपने लंड को उसकी चूत से निकाल लिया. फिर मैंने उसे घोड़ी बनने को कहा. वो मेरे लिए घोड़ी बनी तो पहले तो मैंने पीछे से उसकी चूत को कुछ देर लिक किया. चुदाई की वजह से वह से बहुत सब पानी निकला था. वो सब मैंने चाट लिया और उसकी चूत को ड्राय करना चाहा. लेकिन वो उतनी उत्तेजित थी की उसकी चूत से लगातार पानी बहार आ रहा था. मैंने उपर हो के फिर से अपने लंड को उसकी चूत में घुसा दिया. और चोदने लगा.

loading...

वो भी फुल मूड में थी और अपनी गांड को जोर जोर से हिला के चुदवा रही थी. उसके मुहं से जोर जोर की आवाजें आ रही थी और मैं कभी उसके बोबे दबाता था तो कभी उसकी गांड सहलाता था. पांच मिनिट के बाद मेरे लंड का पानी आने को था. मैंने उसको पूछा तो वो बोली अंदर ही निकाल दो मैं आई पिल ले लुंगी.
और फिर तीव्र झटके लगाए मैंने और अपने लंड का सब पानी अंदर ही छोड़ दिया. जब लंड को बहार निकाला तो उसके ऊपर मेरे वीर्य और बहन की चूत से निकले हुए प्रवाहि का मिश्रण लगा हुआ था!
मेरी बहन ने मेरे को गले लगा लिया और वो बोली, थेंक्स! मैं बहुत दिनों से प्यासी थी!
और उस दिन मेरी बहन ने मेरे को अपनी तलाक की वजह भी बताई. दरअसल मेरा जीजू एक गांडू था जिसका लंड ही खड़ा नहीं होता था. वो मेरी बहन को ढंग से एक बार भी चोद नहीं पाया था और उसकी जॉब की सेलरी भी ले जाता था. तो उसने सोचा की हसबंड का सुख वो देता नहीं है और सेलरी ले जाता है इस से अच्छा तो मैं मइके में ही रहूँ. और उसने जीजा के ऊपर अलिमनी का केस कर के उस से तलाक ले लिया. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम 
मैंने अपनी बहन को कहा, देख जब भी तुम्हे चुदाई का मूड हो तो मेरे को बता देना, मैं वो सुख तुम्हे देता रहूँगा!DMCA.com Protection Status

कहानी शेयर करें :
loading...